कर्नाटक चुनाव: एग्जिट पोल में BJP को नुकसान होता देख टाइम्स नाउ ने PM मोदी की जगह अमित शाह का लगा दिया तस्वीर?

0

कर्नाटक विधानसभा की 224 सीटों में से 222 सीटों के लिए शनिवार (12 मई) को हुए मतदान में करीब 70 प्रतिशत वोट पड़े। कांग्रेस, बीजेपी और जद (एस) के बीच हो रहे त्रिकोणीय चुनावी मुकाबले में सत्ता के तीन बड़े दावेदारों मुख्यमंत्री सिद्धरमैया, पूर्व मुख्यमंत्री येदियुरप्पा और जेडीएस नेता एचडी कुमारस्वामी की किस्मत का फैसला ईवीएम में बंद हो गया है। मतों की गिनती 15 मई को होगी। उधर शनिवार को चुनाव की वोटिंग खत्म होने के बाद तमाम न्यूज चैनलों और एजेंसियों के एग्जिट पोल के नतीजे आए।चैनलों पर आए ज्यादातर एग्जिट पोल के अनुमानों में किसी भी दल को स्पष्ट बहुमत नहीं मिलने की संभावना जताई गई है। पांच चैनलों का अनुमान है कि बीजेपी सबसे आगे रहेगी। चार ने कांग्रेस को सबसे अधिक सीटें मिलने की संभावना जताई है। त्रिशंकु विधानसभा की स्थिति बनने पर जनता दल सेक्युलर (जदएस) किंगमेकर की भूमिका में होगा।

एबीपी न्यूज-सी वोटर और टुडेज चाणक्य-टाइम्स नाऊ के एक्जिट पोल में बीजेपी को स्पष्ट बहुमत मिलने का अनुमान व्यक्त किया गया है। जबकि, न्यूज एक्स-सीएनएक्स, रिपब्लिक टीवी-जन की बात और न्यूज नेशन ने भी बीजेपी को बढ़त दिखाई है। दूसरी ओर, सुवर्णा न्यूज 24*7 और इंडिया टुडे-एक्सिस ने कांग्रेस को बहुमत मिलने की संभावना जताई है। साथ ही टाइम्स नाऊ-वीएमआर और इंडिया टीवी ने इस पार्टी को सबसे बड़े दल के रूप में दिखाया है। हालांकि, असली तस्वीर 15 मई को होने वाली मतगणना में ही सामने आएगी।

टाइम्स नाउ ने किया दो सर्वे

टाइम्स नाउ एक ऐसा समाचार चैनल है जिसने एक नहीं बल्कि दो-दो एजेंसियों के साथ मिलकर सर्वे किया। टाइम्स नाउ-वीएमआर के एग्जिट पोल के अनुसार कर्नाटक में त्रिशंकु विधानसभा बनती नजर आ रही है। टाइम्स नाउ-वीएमआर के एग्जिट पोल में कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभर रही है। कांग्रेस को 90 से 103 सीटे, बीजेपी को 80 से 93 सीटें और जेडीएस को 31 से 39 सीटें मिलने का अनुमान है।

वहीं, टाइम्स नाउ-टुडेज चाणक्य में बीजेपी को पूर्ण बहुमत मिलता दिख रहा है। टाइम्स नाउ-टुडेज चाणक्य के एग्जिट पोल के मुताबकि बीजेपी को कर्नाटक विधानसभा में 120 सीटों पर जीत मिल सकती है। टाइम्स नाउ-टुडेज चाणक्य के एग्जिट पोल में बीजेपी को 120 सीटें, कांग्रेस को 73, जेटीएस प्लस 26 और अन्य को 3 सीटें मिलने का अनुमान जताया गया है। बता दें कि 224 सदस्यों वाली कर्नाटक विधानसभा में बहुमत का आंकड़ा 113 सीटें हैं।

PM मोदी की जगह अमित शाह का लगा दिया तस्वीर?

सोशल मीडिया पर टाइम्स नाउ को उस वक्त आलोचनाओं का सामना करना पड़ा जब उसने टाइम्स नाउ-वीएमआर के एग्जिट पोल में बीजेपी को नुकसान होता देख कथित तौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जगह बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह का तस्वीर लगा दिया। दरअसल पहले चैनल द्वारा किए तमाम ट्वीट में पीएम नरेंद्र मोदी, बीजेपी के सीएम उम्मीदवार बीएस येदियुरप्पा, मुख्यमंत्री सिद्धरमैया और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की तस्वीर थी। इस तस्वीर के साथ ट्विटर पर कई ट्विट भी किए गए। (निचे देखें)

लेकिन चैनल के ऑन-एयर ग्राफिक्स में अभूतपूर्व बदलाव देखने को मिला। दरअसल, सोशल मीडिया यूजर्स का आरोप है कि टाइम्स नाउ-वीएमआर के एग्जिट पोल में कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी बनकर सामने आने के बाद पीएम मोदी की जगह बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की तस्वीर लगा दिया गया और प्रधानमंत्री की तस्वीर अचानक रहस्यमय तरीके से गायब कर दिया गया। (निचे देखें)

पीएम मोदी की जगह अचानक से अमित शाह की तस्वीर देश सोशल मीडिया यूजर्स हैरान हो गए। लोगों ने तस्वीर बदले जाने को लेकर चैनल की नियत पर सवाल उठाते हुए जमकर निशाना साधा। देखिए, सोशल मीडिया रिएक्शन:-

बता दें कि 224 कर्नाटक विधानसभा सीटों वाले राज्य में 2 सीटों पर मतदान स्थगित कर दिया गया था। निर्वाचन आयोग ने प्रदेश के राजाराजेश्वरी नगर विधानसभा सीट पर चुनाव टाल दिया, क्योंकि क्षेत्र में एक अपार्टमेंट से बड़ी तादाद में मतदाता पहचान पत्र बरामद हुए थे। इस सीट पर अब 28 मई को मतदान कराया जाएगा। इसके अलावा बीजेपी उम्मीदवार तथा निवर्तमान विधायक बी एन विजय कुमार के निधन के कारण बेंगलुरू के जयनगरा विधानसभा सीट पर मतदान नहीं हुआ।

बीजेपी ने सिर्फ एक बार 2008 से 2013 तक कर्नाटक में शासन किया था। बीजेपी ने 2008 में 110 सीटें जीती थीं। जबकि कांग्रेस ने 80, जेडीएस ने 28 और अन्य ने 6 सीटें जीती थीं। प्रदेश में विधानसभा चुनावों के लिए 200 महिलाओं समेत कुल 2600 उम्मीदवार मैदान में है। प्रदेश के 2018 के मतदाता सूची के अनुसार राज्य में कुल पांच करोड़ छह लाख 90 हजार से अधिक मतदाता हैं जिनमें दो करोड़ 56 लाख 75 हजार से अधिक पुरूष मतदाता जबकि दो करोड़ 50 लाख नौ हजार से अधिक महिला मतदाता हैं। प्रदेश में पांच हजार से अधिक ट्रांसजेंडर मतदाता हैं।

प्रदेश में 1985 के बाद से कोई भी दल लगातार दूसरी बार सत्ता में नहीं आ पाया है। उस साल रामकृष्ण हेगड़े की अगुवाई में जनता दल फिर सत्ता पर काबिज हुआ था। कांग्रेस, पंजाब के बाद एकमात्र बड़े राज्य पर काबिज रहने के लक्ष्य पर केंद्रित है, जबकि बीजेपी कर्नाटक में अपनी सरकार बनाने के लिए जुटी हुई है। सिद्धरमैया समेत चार वर्तमान एवं पूर्व मुख्यमंत्री चुनाव मैदान में हैं।

येद्दियुरप्पा शिकारीपुरा से, कुमारस्वामी चेन्नापटना और रमनगारा से तथा बीजेपी के जगदीश शेट्टार हुबली धारवाड़ से चुनाव मैदान में ताल ठोक रहे हैं। वर्ष 2013 के चुनाव में कांग्रेस को 122 सीटें जीती थीं। बीजेपी और जदएस को 40-40 सीटें मिली थीं। कर्नाटक जनता पक्ष को छह, बडवारा श्रमिकारा रैयतरा को चार, कर्नाटक मक्कल पक्ष, समाजवादी पार्टी और सर्वोदय कर्नाटक पक्ष को एक एक सीटें मिली थीं और नौ निर्दलीय विजयी रहे थे।

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here