महिलाओं पर विवादित बयान देकर घिर गए अबू आजमी, राष्ट्रीय महिला आयोग ने भेजा समन

0

अबू आजमी ने 31 दिसंबर को बेंगलुरु के एमजी रोड पर लड़कियों के साथ हुए छेड़छाड़ की घटना पर कथित तौर पर आपत्तिजनक बयान दिया है जिसके अनुसार छेड़छाड़ की वजह लड़कियों के तंग और छोटे कपड़े हैं। इसके बाद अबू आजमी को चौतरफा निंदा का दौर शुरू हो गया। इसमें आयशा टाकिया, DCW प्रमुख स्वाति मालीवाल, राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष ललिता कुमारमंगलम, बॉलीवुड एक्ट्रेस तापसी पन्नू, वरुण धवन, वृंदा अडिग, विजया राहतकर आदि ने उनके बयान की कड़ी आलोचना की।

अबू आजमी

मशहूर फिल्मी अभिनेत्री आयशा टाकिया के ससुर तथा महाराष्ट्र में समाजवादी पार्टी के प्रमुख अबू आजमी ने 31 दिसंबर को बेंगलुरु में छेड़छाड़ की घटना पर विवादित बयान देते हुए कहा था कि आज मॉडर्न जमाने में जितनी औरत नंगी नजर आती है उतना उसे फैशनेबल कहा जाता है।

अगर मेरी बहन-बेटी सूरज डूबने के बाद गैर मर्द के साथ 31 दिसंबर मनाए और उसका भाई या पति साथ नहीं है तो ये ठीक नहीं है। जहां पेट्रोल होगा, वहीं आग लगेगी। शक्कर गिरेगी तो चींटी जरूर आएगी। इससे बहुत लोग मुझसे नाराज होंगे, लेकिन चलेगा क्योंकि यह सच्चाई है।

इस बयान की चारों ओर कड़ी निंदा हुई थी। उनकी बहू आयशा टाकिया तक ने उनके इस बयान की आलोचना की थी। आयशा ने ट्विटर पर लिखा था कि वह और उनके पति फरहान, अबू आजमी के बयान को लेकर बेहद शर्मिंदा हैं।

दिल्ली महिला आयोग (DCW) की प्रमुख स्वाति मालीवाल ने भी उनके लिए अपना गुस्सा जाहिर किया। स्वाति ने लिखा, ‘अबु आजमी ने कहा कि रेप को रोकने के लिए लड़कियों को सऊदी की तरह अकेले बाहर नहीं निकलना चाहिए। मैं कहना चाहूंगी कि भारत को सऊदी बनाने की जगह अबु को ही सऊदी चले जाना चाहिए।’

राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष ललिता कुमारमंगलम ने कहा, ‘हमने कर्नाटक के गृहमंत्री और अबू आजमी को समन भेजा है।‘

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक,  महिला अधिकार कार्यकर्ता वृंदा अडिग ने कहा कि महिलाओं को ही जिम्मेदार ठहरा देना काफी संकीर्ण सोच को दर्शाता है। उनके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। महाराष्ट्र महिला आयोग से अबू आजमी के खिलाफ कार्रवाई की मांग पर चेयरमैन विजया राहतकर ने कहा कि हम इस मामले में कानून को देखेंगे। हम देखेंगे कि उन्होंने क्या कहा है उसी के बाद आगे के कदम के बारे में फैसला ले सकते हैं।

बॉलीवुड एक्ट्रेस तापसी पन्नू ने कहा कि काश वो सपा नेता को अपनी फिल्म ‘पिंक’ की स्पेशल स्क्रीनिंग पर बुला पातीं।

वरुण धवन ने भी अपने ट्विटर हैंडल पर इस बयान की निंदा करते हुए कहा कि मुझे गुस्सा आता है। सर क्रिमिनल्स को सजा दें, लड़कियों को नहीं। वो जो चाहे कपड़े पहन सकती हैं, ये उनकी पसंद हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here