उत्तर प्रदेश: BJP के सांसद शरद त्रिपाठी ने अपनी ही पार्टी के विधायक को जूते से पीटा, बीजेपी शर्मसार

2

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक वीडियो ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेतृत्व को शर्मसार कर दिया है। वायरल वीडियो में उत्तर प्रदेश से बीजेपी के सांसद शरद त्रिपाठी बीजेपी के ही विधायक राकेश सिंह बघेल को जूते से पीटते हुए नजर आ रहे हैं। इसके बाद दोनों में जमकर मारपीट हुई।

शरद त्रिपाठी

यह मामला उत्तर प्रदेश के संतकबीर नगर का है, जहां तमाम अधिकारियों और मीडियाकर्मियों की मौजूदगी में संतकबीर नगर से बीजेपी सांसद शरद त्रिपाठी ने अपनी ही पार्टी के विधायक राकेश सिंह को जूते से जमकर पीटा।

इस दौरान भारी हंगामे और मारपीट से मौके पर अफरातफरी मच गई। जिसके बाद आसपास मौजूद लोगों को बीच बचाव करना पडा। इस विवाद को लेकर बाहर भी दोनो बीजेपी नेताओं के समर्थकों के बीच जमकर नारेबाजी भी हुई।

वायरल वीडियो में भाजपा विधायक राकेश सिंह और पार्टी के सांसद शरद त्रिपाठी के बीच नोंक झोंक होती है और जल्द ही मामला इतना बिगड़ जाता है कि दोनों एक दुसरे पर जूते और मुक्के की बौछाड़ करना शुरू कर देते हैं।

दरसल भाजप सांसद एक उद्घाटन समारोह में शिलापट पर अपना नाम न देख कर नाराज़ हो गए थे। जब उन्होंने वहां मौजूद सरकारी अफसरों से जवाब तलब किया तो विधायक ने उनसे कहा कि ये फैसला उनका था।

फिर क्या था। नाराज़ सांसद ने सिंह से मुखातिब होते हुए कहा कि वो अपनी हैसियत ना भूलें क्यूंकि सांसद महोदय ने कई विधायकों को ‘पैदा किया है।’ त्रिपाठी की ये बात सिंह को नागवार गुज़री और उन्होंने अपने जूते की ओर इशारा करते हुए उन्हें जूते से मारने की धमकी दी। सिंह तो ऐसा नहीं कर सके, लेकिन सांसद त्रिपाठी ने उनपर अपने जूते से हमला करना शुरू कर दिया। जवाब में सिंह ने त्रिपाठी पर मुक्कों की बारिश कर दी।

भाजपा के लिए ये शर्मनाक घटना लोकसभा चुनाव से कुछ ही हफ्ते पहले आया है।

2 COMMENTS

  1. Ye sab bas nautanki hai aur kuch nahi, agar aap ko lagta hai ke ye log ek dusre ke khelaf kuchh karne wale hai to aap galat soch rahe hai, ye log ek dusre ke khelaf kuchh nahi karne wale balki media me es baat ko bahut bare paimane pe uthaya jayega taki baki muddon ko es ke aar me dabaya ja sake,
    Sowarnon ka larna bas dikhawa hai agar aaj aarakshan khatm karne ki baat hogi to sabse pehle yahi log uske samarthan me aage aaynge, ye bas Shudron aur musalmanon ko bewakuf bana rahe hai, ye sowarn hai inko paise aur pad se matlab hai ijjat aur samman se koi matlab mahi hai.

  2. मेरे अंकल कहते है के दो सवर्णों की लड़ाई बस दिखावा है जो ध्यान भटकाने के लिए करते है और बिलकुल यही हुआ है कल जब एक ब्राह्मण ने एक राजपूत को पीटा और हैरानी की बात ये है के राजपूत होक भी बन्दा पिट गया,
    हकीकत तो ये है के अगर आज आरक्षण ख़त्म करने की बात आजाये तो यही लोग सबसे आगे होंगे और साथ भी होंगे इनको बस सत्ता और सुख से मतलब है आत्मा सम्मान से नहीं .

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here