खुलासा: बलात्‍कारी बाबा राम रहीम के इलाके में चलती थी अलग मुद्रा प्रणाली

0
6

सीबीआई कोर्ट द्वारा डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को दोषी करार दिए जाने के बाद अब हर रोज नए-नए खुलासे हो रहे हैं। सिरसा में डेरा सच्चा सौदा के मुख्यालय में राम रहीम सिंह के भक्त जो वहां दुकानों का संचालन करते थे वे ग्राहकों को छुट्टे देने के लिए अलग मुद्रा प्रणाली चलाते थे।डेरा परिसर के भीतर और ईदगिर्द स्थित इन दुकानों पर नाम के प्रारंभ में सच लिखा होता था। ग्राहक यदि भारतीय करंसी में खुल्ले नहीं दे पाते तो दुकानदार इनके बदले पांच और 10 रूपये के प्लास्टिक के सिक्के या टोकन उन्हें दिया करते थे।

इन सिक्कों पर लिखा होता था, ‘धन धन सतगुरू तेरा ही आसरा, डेरा सच्चा सौदा सिरसा’ इनका इस्तेमाल ग्राहक बाद में सच दुकानों से सामान खरीदने में कर सकते थे। डेरा परिसर करीब एक हजार एकड़ इलाके में फैला हुआ है, इसकी अपनी टाउनशिप है, अपने स्कूल हैं, खेल गांव, अस्पताल और सिनेमा हॉल भी है।

डेरा मुख्यालय के ईदगिर्द के दुकानदार सच दुकानें चलाते थे उनके पास अलग-अलग कलर कोड के प्लास्टिक के सिक्के होते थे। डेरा प्रमुख को सीबीआई अदालत द्वारा बलात्कार मामले में दोषी करार दिए जाने के बाद डेरा मुख्यालय के ईदगिर्द हालात का जायजा लेने सिरसा पहुंचे कुछ संवाददाताओं को भी भारतीय करंसी के स्थान पर ऐसे प्लास्टिक के सिक्के दिए गए।

बता दें कि 50 वर्षीय डेरा प्रमुख को शुक्रवार को 2002 के दुष्कर्म मामले में दोषी करार दिया गया। उसके बाद उसे हिरासत में रोहतक जेल में रखा गया है। हरियाणा के डीजीपी बीएस संधु के मुताबिक बाबा को दोषी करार दिए जाने के बाद फैली हिंसा में बीते 24 घंटों में राज्य में अब तक 36 लोगों की मौत हुई है।

पुलिस महानिदेशक बी एस संधु ने शाम को बताया कि 36 लोग मारे गए हैं, जिनमें छह लोग सिरसा, जबकि बाकी लोग पंचकूला में मारे गए। इससे पहले, मृतकों की संख्या 32 बताई गई थी। हरियाणा के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक आर सी मिश्रा ने बताया कि विभिन्न जिलों में 30 से ज्यादा नाम चर्चा घरों को सील कर दिया गया है।

हाईकोर्ट ने हरियाणा सरकार को लगाई फटकार 

डेरा सच्च सौदा प्रमुख राम रहीम को दुष्कर्म मामले में दोषी ठहराए जाने के बाद हुई हिंसा पर पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट ने शनिवार को हरियाणा सरकार को जमकर फटकार लगाई। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की सरकार पर सख्त टिप्पणी करते हुए कहा कि राजनीतिक फायदे के लिए हिंसा होने दी गई।

‘देश के पीएम हैं, बीजेपी के नहीं’

राम रहीम के दोषी ठहराए जाने के बाद हुई हिंसा के रोक पाने में नाकाम रहने पर पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी कड़ी फटकार लगाई है। शनिवार को हाई कोर्ट इस मुद्दे पर विशेष सुनवाई के दौरान ने हरियाणा में कानून व्यवस्था पूरी तरह से फेल रहने के बाद केंद्र सरकार के रवैये पर नाराजगी जाहिर की।

कोर्ट ने केंद्र सरकार के वकील से सवालिया लहजे में कहा, ‘वह भारत के पीएम हैं, बीजेपी के नहीं। क्या हरियाणा देश का हिस्सा नहीं है?’ हाई कोर्ट ने यह बात पूरे मामले में राज्य में कानून व्यवस्था पूरी तरह से फेल रहने के बाद केंद्र द्वारा कोर्ट में दिए गए उस हलफनामें के बाद कही जिसमें केंद्र सरकार द्वारा ने कहा था कि हरियाणा में हुई हिंसा राज्य का मुद्दा है।

डेरा समर्थकों से एके-47 बरामद

हिंसा के बाद शनिवार को हरकत में आई पुलिस ने राज्य में डेरा सच्च सौदा के 36 समागम केंद्रों को सील कर दिया। डेरा समर्थकों के ठिकानों और वाहनों की तलाशी में पुलिस को एके-47 और दो रायफलें भी मिलीं। राज्य के मुख्य सचिव डीएस ढेसी ने बताया कि सिरसा, कैथल समेत पूरे राज्य में ऑपरेशन के दौरान डेरे से संबंधित एक वाहन से एक एके-47 राइफल, एक माउजर जब्त की गई है, जबकि दूसरे एक अन्य वाहन से दो रायफल और पांच पिस्टल जब्त किए गए।

तलाशी के दौरान 2500 से अधिक लाठियां, लोहे की रॉड और अन्य धारदार हथियार बरामद हुए। एक डेरा प्रधान के घर के बाहर से 6 पेट्रोल बम बरामद हुए हैं। कुरुक्षेत्र के पुलिस अधीक्षक अभिषेक गर्ग ने बताया कि जिले के सभी नौ समागम केंद्रों को सील कर दिया गया है और इनमें प्रवेश पर रोक लगा दी गई है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here