VIDEO: योगी के मंत्री ने सरेआम दिव्यांग को किया अपमानित, अधिकारियों से बोले- ‘लूले लंगड़ों को संविदा पर रखा है?’

0

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सत्ता संभालते ही अपने मंत्रियों के लिए आचार संहिता जारी करते हुए सख्त संदेश दिया था। लेकिन ऐसा लग रहा है कि उनके कुछ मंत्रियों तक उनका संदेश एक महीना बाद भी पहुंच नहीं पाया है।यह सवाल इसलिए उठ रहा है, क्योंकि बुधवार(19 अप्रैल) को योगी सरकार में खादी और ग्रामोद्योग मंत्री सत्यदेव पचौरी ने एक दिव्यांग की सरेआम बेइज्जत करते हुए उसे लूला लंगड़ा तक कह दिया।दरअसल, पचौरी बुधवार को खादी ग्रामद्योग बोर्ड के ऑफिस का मुआयना करने पहुंचे थे। इसी दौरान दफ्तर में संविदा पर काम कर रहे एक दिव्यांग सफाई कर्मचारी के सामने ही उन्होंने बोर्ड के मुख्य कार्यपालक अधिकारी(सीईओ) से कहा कि, ‘लूले-लंगड़े लोगों को संविदा पर रखा है? ये क्या सफाई करेगा?

वीडियो में सत्यदेव पचौरी सफाई कर्मचारी की तरफ इशारा करते हुए कहते हैं कि ऐसा आदमी क्या सफाई कर पाएगा? तभी यह हाल है सफाई का। सफाई कर्मचारी से जब उसकी तनख्वाह पूछी जाती है तो वो चार हजार रुपये बताता है।

सत्यदेव पचौरी ने कर्मचारी से पूछा- ‘तुम क्या हो?’ वह बोला, ‘सफाई कर्मचारी हूं।’ मंत्री ने पूछा, ‘क्या संविदा पर हो’ तो सफाई कर्मचारी ने का जवाब हां में आया। इस पर मंत्री ने सीईओ की ओर देखते हुए बोले, ‘यह कोई भी हो, कैसे भर्ती कर लिया? यह क्या काम करेगा? तभी सफाई का यह हाल हो गया है।

हालांकि, उन्होंने आगे सीईओ से पूछा- आप पैसा दे रहे हो न? कितना पैसा देते हो? मंत्री के इस सवाल पर कर्मचारी ने चार हजार रुपये बताया, जबकि सीईओ ने पांच हजार रुपये दिए जाने का दावा किया।

बता दें कि योगी सरकार ने 17 अप्रैल को ही दिव्यांगों को सम्मान दिलाने के लिए विकलांग विभाग का नाम बदलकर दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग रखा, लेकिन दुर्भाग्य की बात है कि उन्हीं के मंत्री दिव्यांगों को सरेआम अपमानित कर रहे हैं।

(देखें वीडियो)

Pizza Hut

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here