रियो ओलम्पिक : दीपा फाइनल में, हॉकी में आज भारत-जर्मनी आमने-सामने

0

52 वर्षों के बाद ओलम्पिक खेलों की जिम्नास्टिक स्पर्धा में शामिल होकर इतिहास बनाने वाली दीपा कर्माकर ने रविवार को रियो ओलम्पिक के वॉल्ट के फाइनल में प्रवेश कर एक और इतिहास रच दिया। वहीं, सोमवार को महिला और पुरूष हॉकी टीम भी अपनी किस्मत आजमाने के लिए आज मैदान में उतरेगी।

दीपा जिम्नास्टिक की सभी पांच क्वालिफिकेशन सबडिवीजन स्पर्धा के समापन के बाद वॉल्ट में आठवें स्थान पर रहीं, जो फाइनल में क्वालिफाई करने के लिए आखिरी स्थान था। दीपा ने रविवार को हुए तीसरी सबडिवीजन क्वालिफाइंग स्पर्धा के वॉल्ट में 14.850 अंक हासिल किया।

Photo: Metro.co.uk
Photo: Metro.co.uk

तीसरे सबडिवीजन की समाप्ति पर दीपा छठे स्थान पर थीं, लेकिन अमेरिका की सिमोन बाइल्स और कनाडा की शैलन ओल्सेन आखिरी के दो सबडिवीजन से फाइनल में प्रवेश करने में सफल रहीं।

Also Read:  India beat Pakistan in U-18 Asia Cup, Twitter dubs it as another surgical strike

फाइनल में पहुंच दीपा ने रचा इतिहास

सिमोन बाइल्स ने वॉल्ट में 16.050 अंक हासिल कर शीर्ष स्थान के साथ फाइनल में प्रवेश किया, जबकि दीपा सबसे निचले आठवें पायदान के साथ फाइनल में पहुंची हैं। इससे स्पष्ट है कि दीपा को फाइनल में पदक हासिल करने के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ देना होगा। कलात्मक जिम्नास्टिक स्पर्धा के क्वालिफिकेशन सबडिवीजन-3 में दीपा का ओवरऑल प्रदर्शन तो औसत रहा, लेकिन वॉल्ट में उन्होंने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए फाइनल में जगह बनाई है।

दीपा ने वॉल्ट में बेहद कठिन माने जाने वाले प्रोदुनोवा को सफलतापूर्वक अंजाम दिया और रियो-2016 में ऐसा करने वाली वह एकमात्र जिम्नास्ट रहीं।

Also Read:  India thrash Pakistan 5-1 in Sultan Azlan Shah Cup match

हॉकी में भारत-जर्मनी आमने-सामने

वहीं, आज भारत की पुरुष हॉकी जर्मनी के साथ मैच खेलने के लिए मैदान में उतरेगी, जबकि भारतीय महिला हॉकी टीम ब्रिटेन के साथ दो-दो हाथ करेगी।

पूल-बी: पहले मैच में आयरलैंड को 3-2 से हराया

रविवार का दिन भारतीय हॉकी टीम के लिए अच्छा रहा। भारतीय टीम ने पूल-बी के पहले मैच में आयरलैंड को 3-2 से हराया। मैच के सभी पांच गोल पेनल्टी कॉर्नर से हुए। भारतीय टीम पहले क्वार्टर में पूरी तरह हावी रही। मगर 14 मिनट बीत जाने के बाद भी दोनों ही टीमें गोल नहीं कर सकीं। अंतिम एक मिनट में भारत ने बेहद बढ़त हासिल करते हुए चार कॉर्नर हासिल किए।

Also Read:  Daughters saved India's grace at Rio Olympics: PM Narendra Modi

चौथे कॉर्नर पर वीआर रघुनाथ ने गोल कर टीम को 1-0 की बढ़त दिली दी। 27वें मिनट में रुपिंदर पाल सिंह ने कॉर्नर पर गोल करके टीम को 2-0 की बढ़त दिला दी। 45वें मिनट में जॉन जर्मीन ने गोल कर स्कोर 1-2 कर दिया। चौथे क्वार्टर में टीम ने फिर वापसी की। 49वें मिनट में पेनल्टी कॉर्नर पर रुपिंदर ने अपना दूसरा गोल करके टीम को 3-1 की बढ़त दिला दी। इसके बाद 55वें मिनट में कोनोर हार्टे ने गोल कर स्कोर 2-3 कर दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here