केजरीवाल द्वारा बिक्रम सिंह मजीठिया से माफी मांगने पर AAP में उठे बगावत के सुर

0

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (AAP) के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने शिरोमणि अकाली दल के महासचिव व पंजाब के पूर्व कैबिनेट मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया को ड्रग्स तस्कर बताने के अपने बयान को वापस लेते हुए उनसे लिखित में माफी मांग ली है। बता दें कि पंजाब विधानसभा चुनाव के दौरान केजरीवाल ने हर चुनावी मंच से मजीठिया को ड्रग्स तस्कर बताया था। जिसके बाद मजीठिया ने अमृतसर कोर्ट में केजरीवाल, संजय सिंह और आशीष खेतान पर मानहानि का केस ठोका। इसमें तीनों नेताओं को जमानत लेनी पड़ी थी।

Congress 36 Advertisement
File Photo: PTI

अपने माफीनामे में केजरीवाल ने लिखा है कि मैंने पहले कई बार आप (ब्रिकम मजीठिया) पर ड्रग सप्लाई में शामिल होने के आरोप लगाए। अब मुझे पता चला है कि यह आरोप बेबुनियाद है। इसीलिए मैं अपने सभी बयान और आरोप वापस लेता हूं। आपके परिवार, दोस्तों और उनके शुभचिंतकों के सम्मान को पहुंची चोट के लिए भी माफी मांगता हूं। इसके लिए मुझे खेद भी है। मेरी गुजारिश है कि कोर्ट में चल रहा केस वापस ले लें।

गुरुवार (15 मार्च) शाम को मजीठिया ने केजरीवाल का माफीनामा ट्वीट किया। मजीठिया ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ट्वीट कर लिखा, ‘मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मुझसे उन सभी निराधार और झूठे आरोपों के लिए कोर्ट में माफी मांगी है जो उन्होंने और उनकी पार्टी ने मुझपर ड्रग को लेकर लगाए थे। इन आरोपों के कारण मेरी मां को काफी तकलीफ पहुंची थी और यह माफी उनका वाहेगुरु के न्याय में अटूट विश्वास का प्रमाण है।’

AAP में बगावत के सुर

केजरीवाल द्वारा बिक्रम मजीठिया से लिखित में माफी मांगने के मामले पर आम आदमी पार्टी (AAP) की पंजाब ईकाई में खासी नाराजगी है। आप विधायक व पंजाब में नेता प्रतिपक्ष सुखपाल सिंह खैरा और विधायक कंवर संधू ने इसे गलत बताते हुए विरोध जताया। खैरा ने कहा कि केजरीवाल ने पार्टी से चर्चा किए बगैर यह कदम उठाया है। वहीं, पार्टी के नाराज नेता कुमार विश्वास ने भी इसे लेकर बिना नाम लिए केजरीवाल पर तंज कसा है।

Congress 36 Advertisement

सुखपाल सिंह खैरा ने केजरीवाल के इस फैसले पर हैरानी जताते हुए ट्वीट कर कहा है कि, ‘हम केजरीवाल द्वारा माफी मांगे जाने से आश्‍चर्यचकित हैं और हमें यह कहने में कोई हिचक नहीं है कि उनके जैसे कद के नेता द्वारा इस तरह समर्पण करने से पहले हमसे संपर्क नहीं किया गया।’

वहीं, केजरीवाल के माफीनामे की सूचना मिलने पर खरड़ से आप विधायक और पार्टी की मेनिफेस्टो कमेटी के चेयरमैन कंवर संधू ने ट्वीट करके कहा कि, ‘अगर आप सत्य के लिए खड़े होते हैं तो मानहानि के दावों का सामना करना पड़ता है। मैं अभी तक पंजाब केबल माफिया द्वारा दाखिल किए गए केस का सामना कर रहा हूं। हम अंत तक लड़ेंगे। अरविंद केजरीवाल की मजीठिया से माफी ने लोगों को शर्मिंदा किया है, खास तौर पर पंजाब के युवाओं को। पार्टी की पजांब यूनिट से इस बारे में कोई चर्चा नहीं की गई। हमारी लड़ाई जारी रहेगी।’

उधर आम आदमी पार्टी के नेता कुमार विश्‍वास ने मामले पर तल्‍ख टिप्‍पणी की है। उन्‍होंने ट्वीट कर अपनी प्रतिक्रिया जताई है। कुमार ने लिखा है, ‘एकता बाँटने में माहिर है, खुद की जड़ काटने में माहिर है, हम क्या उस शख़्स पर थूकें जो खुद, थूक कर चाटने में माहिर है!’

जेटली से भी मांगेंगे माफी?

Congress 36 Advertisement

बताया जा रहा है कि वह केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली से भी जल्द ही माफी मांग सकते हैं। बता दें कि जेटली ने केजरीवाल समेत आम आदमी पार्टी के पांच नेताओं पर दो केस कर 10-10 करोड़ के मुआवजे की मांग की है। केजरीवाल पर उत्तर प्रदेश, पंजाब, असम, महाराष्ट्र, गोवा में भी मानहानि व चुनाव आचार संहिता उल्लंघन के कई मामले दर्ज हैं। पार्टी प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज का कहना है कि ये मुकदमे हमें कानूनी मामलों में उलझाए रखने के लिए दर्ज कराए गए हैं। इन सभी मामलों को आपसी सहमति से सुलझाने पर विचार चल रहा है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here