कश्मीरी छात्रों पर हो रहे हमलों से राजनाथ सिंह चिंतित, बोले- कश्मीरियों की सुरक्षा सुनिश्चित करें सभी राज्य

0

राजस्थान के चित्तौड़गढ़ जिले के गंगरार इलाके में बुधवार (19 अप्रैल) की शाम को कश्मीरी छात्रों पर हुए हमलों पर चिंता वयक्त करते हुएं केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार (21 अप्रैल) को सभी राज्यों के निर्देश देते हुए कहा कि, कश्मीरी छात्रों की सुरक्षा सुनिश्चित करें वे लोग भी भारत के ही नागरिक हैं।

राजनाथ

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, राजनाथ सिंह ने कहा कि कई स्थानों पर कश्मीरी युवकों के साथ बुरा व्यवहार किया जाता है। मैं अपने साथी मंत्रियों से भी इस मामले में दखल देने की अपील करता हूं। मैं सभी राज्यों से अपील करता हूं कि वे अपने राज्यों में कश्मीरी लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित कराएं। साथ ही उन्होंने कहा कि, इस मसले पर गृह सचिव से एक एडवाइजरी जारी करने को भी कहा है।
भारतीयों से अपील करते हैं कि वह कश्मीरी लोगों को अपना भाई ही मानें, कश्मीरी युवक भी भारतीय नागरिक ही हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि, ‘मैंने राज्यों को कहा है कि कोई भी कश्मीरी बच्चों के साथ कहीं बदसलूकी या गलत व्यवहार करते हैं, उसपे कड़ी कार्यवाही की जाएं’

आपको बता दें कि, राजस्थान के चित्तौड़गढ़ जिले के गंगरार इलाके में छह कश्मीरी छात्रों के साथ बुधवार(19 अप्रैल) की शाम अज्ञात लोगों ने मारपीट की थी, जिसमें 6 कश्मीरी घायल हो गए। मारपीट के बाद घायल कश्मीरी छात्रों को नजदीकी अस्पताल ले जाया गया, जहां प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें छुट्टी दे दी गई।

छात्रों की शिकायत के आधार पर अज्ञात लोगों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 323 और 341 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है साथ ही पुलिस इस मामले की जांच कर रही है।

वहीं आपको बता दें कि, यूपी के मेरठ में कश्मीरियों के विरोध में पोस्टर लगाए गए हैं। पोस्टर को कश्मीरियों को धमकाया गया है। पोस्टर में लिखा है ‘कश्मीरियों उत्तर प्रदेश छोड़ो, वर्ना…’ यह पोस्टर उत्तर प्रदेश नवनिर्माण सेना की ओर से लगाए गए थे।
इस पोस्टर कोे देखने से साफ होता है कि, पोस्टर में कश्मीरियों को उत्तर प्रदेश छोड़ने की धमकी दी जा रही है। वहीं पुलिस का कहना है कि ऐसे होर्डिंग लगाने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Also Read:  चंडीगढ़ छेड़खानी मामला: 2 दिन की पुलिस रिमांड में भेजा गया विकास बराला और उसका दोस्त

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here