कांग्रेस अध्‍यक्ष बनने के बाद पहली विदेश यात्रा पर बहरीन पहुंचे राहुल गांधी, राजकुमार से की मुलाकात, BJP ने बताया PM मोदी की नकल

0

कांग्रेस अध्यक्ष बनने के बाद अपनी पहली विदेश यात्रा पर बहरीन पहुंचे राहुल गांधी ने सोमवार (8 जनवरी) को बहरीन के शहजादा शेख खालिद बिन हमाद अल खलीफा से उनके अल-वादी पैलेस में मुलाकात की। इस दौरान राहुल ने राजकुमार शेख खालिद बिन हमाद अल खलीफा से भी मुलाकात की। मुलाकात के दौरान राहुल ने नेहरू की कुछ किताबें भी बहरीन के प्रिंस को कीं भेंट। बता दें कि राहुल गांधी बहरीन के राजकीय अतिथि हैं।कांग्रेस पार्टी के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर यह जानकारी देते हुए बताया गया है कि कि राहुल ने अल वादी पैलेस में खलीफा से मुलाकात की। पार्टी ने इस संबंध में एक बयान जारी कर कहा कि गांधी ने राजकुमार से बहरीन में खेलों के बारे में चर्चा की। बता दें कि गांधी इन दिनों प्रवासी भारतीयों के वैश्विक सम्मेलन में शामिल होने के लिए बहरीन गए हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी रविवार (7 जनवरी) को बहरीन की यात्रा पर रवाना हुए। कांग्रेस अध्यक्ष बनने के बाद यह उनकी पहली विदेश यात्रा है। इस दौरान राहुल अनिवासी भारतीयों के एक सम्मेलन को संबोधित करेंगे। कांग्रेस की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि गांधी ग्लोबल ऑर्गनाइजेशन ऑफ पीपुल ऑफ इंडिया ओरिजिन (जीओपीआईओ) की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम के विदाई सत्र में कल हिस्सा लेंगे।

बयान में कहा गया है कि कार्यक्रम में 50 देशों के प्रतिनिधि शिरकत करेंगे। वह भारतीय मूल के कारोबारियों से भी आज बातचीत करेंगे। राहुल ने अपनी यात्रा शुरू करने से पहले एक ट्वीट में कहा, ‘‘अनिवासी भारतीय हमारी सौम्य ताकत के वास्तविक प्रतिनिधि एवं विश्व में हमारे देश के दूत होते हैं। बहरीन में अपने देशवासियों के साथ मुलाकात और उन्हें संबोधित करने को लेकर आशान्वित हूं।’’ राहुल के नौ जनवरी को भारत लौटने की संभावना है।

BJP ने बताया PM मोदी की नकल

भारतीय जनता पार्टी ने राहुल गांधी के बहरीन दौरे को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नकल बताया है। बीजेपी प्रवक्ता जेवीएल नरसिम्हा राव ने ट्वीट कर कहा कि राहुल गांधी ने पहले कॉलेज जाना शुरू किया, उसके बाद मंदिर और अब एनआरआई से बातचीत कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि राहुल, पीएम मोदी की नकल कर रहे हैं। बीजेपी प्रवक्ता जेवीएल नरसिम्हा राव ने आगे लिखा कि राजनीति में लोग तीन ‘C’ की तलाश में रहते हैं। क्रेडिबिलिटी, कनविक्शन और कॉम्पिटेन्स। राहुल के पास इन तीन में से कुछ भी नहीं है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here