VIDEO: श्रीनगर के लाल चौक पर तिरंगा फहराने की कोशिश करते BJP कार्यकर्ताओं को पुलिस ने हिरासत में लिया

0

जम्मू कश्मीर की राजधानी श्रीनगर में सोमवार को तीन भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कार्यकर्ताओं को उस वक्त हिरासत में ले लिया गया जब वे लाल चौक के क्लॉक टॉवर पर तिरंगा फहराने के लिए बढ़ रहे थे। कार्यकर्ता भारत माता की जय के नारे भी लगा रहे थे।

श्रीनगर

उल्लेखनीय है कि, आज के ही दिन यानी 26 अक्टूबर 1947 में महाराजा हरि सिंह ने भारत में कश्मीर का विलय करने के हुए समझौता पर हस्ताक्षर किया था। स्थानीय रिपोर्ट के मुताबिक, आज सुबह सिविल लाइंस इलाके में हाई वोल्टेड ड्रामा देखने को मिला जब सभी दुकानों और व्यापारिक प्रतिष्ठानों के बंद होने पर भाजपा कार्यकर्ताओं का एक समूह अचानक तिरंगे के साथ क्षेत्र में आया।

भाजपा कार्यकर्ता भारत माता की जय और कुपवाडा इकाई की भाजपा जिंदाबाद के नारे लगते हुए लाल चौक की ओर बढ़े, तो वहां तैनात पुलिसकर्मी हरकत में आए। भाजपा कार्यकर्ताओं में एक की चिल्लाने की आवाज सुनाई दी हम पूरे कश्मीर घाटी में तिरंगा झंडा फहराएंगे। पुलिस भाजपा कार्यकताओं को पकड़ने के आगे बढी और उन्हें झंडा फहराने से रोक दिया तथा एक निजी वाहन से सभी को लेकर चली गई।

प्रदर्शनकारियों ने कहा कि वह उमर अब्दुल्ला, महबूबा मुफ्ती और पीएजीडी (गुपकार घोषणा) के सदस्यों को संदेश देना चाहते हैं कि कश्मीर में केवल तिरंगा फहराया जाएगा। बता दें कि, रिहाई के बाद मुफ्ती ने बीते दिनों बयान दिया था कि जब तक घाटी में आर्टिकल 370 के निरस्त प्रावधान दोबारा लागू नहीं हो जाते, वह कोई भी झंडा नहीं थामेंगी।

सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के तिरंगे को लेकर दिए गए बयान की निंदा करते हुए कहा है कि तिरंगे का अपमान बिल्कुल अस्वीकार्य है। जावडेकर ने सोमवार को ट्वीट कर कहा, “महबूबा मुफ्ती के बयानों की हम भर्त्सना करते हैं। तिरंगे का अपमान बिल्कुल अस्वीकार्य है। तिरंगा भारत की शान है, तिरंगा भारत की पहचान है।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here