‘मन की बात’ में PM मोदी दी छात्रों को परीक्षा की टिप्स, नकल पर की विस्तृत चर्चा

0

पीएम मोदी ने रविवार को रेडियो पर ‘मन की बात’ के माध्यम से देश को संबोधित किया। ‘मन की बात’ कार्यक्रम का ये 28वां प्रसारण है। इस बार ‘मन की बात’ कार्यक्रम में पीएम मोदी ने बोर्ड की परीक्षा पर केंद्रित होकर बातें की। आपको बता दे कि दसवीं और बारहवीं की बोर्ड की परीक्षाएं नौ मार्च को शुरु होने वाली है।

पीएम मोदी ने कहा कि 30 जनवरी को महात्मा गांधी की पुण्य तिथि है। इस दिन हम सब सुबह 11 बजे 2 मिनट का मौन रखें। मौन रखकर हम देश के लिए प्राण न्योछावर करने वालों को श्रद्धांजलि देते हैं। हमारे देश में सेना और जवानों के लिए सम्मान हैं।

बता दें कि आने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, गोवा और मणिपुर समेत पांच राज्यों में आचार संहिता लागू है। इस दौरान मन की बात के प्रसारण के लिए चुनाव आयोग से इसकी मंजूरी मांगी गई थी।

अपने सम्बोधन में पीएम मोदी ने मुख्य रूप से कहा कि अधिकार और कर्तव्य की दो पटरी पर ही, भारत के लोकतंत्र की गाड़ी तेज़ गति से आगे बढ़ सकती है। युवा सोशल मीडिया पर वीर सैनिकों, शहीदों के पराक्रम को लिखें। परीक्षा अपने आप में, एक खुशी का अवसर होना चाहिए।परीक्षा एक उत्सव है, परीक्षा को ऐसे लीजिए जैसे मानों त्योहार है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, आगे उन्होंने कहा कि प्रतिस्‍पर्धा में पराजय, हताशा, निराशा और ईर्ष्या को जन्म देती है, लेकिन अनुस्‍पर्धा आत्मंथन, आत्मचिंतन का कारण बनती है। अभिभावक अपेक्षा ज्‍यादा करते हैं। बच्‍चों से अपेक्षा कम करें, ठीक रहेगा। मैं अभिभावकों से इतना ही कहना चाहूंगा- तीन बातों पर हम बल दें… स्वीकारना, सिखाना, समय देना।

बता दें कि चुनाव आयोग ने मन की बात रेडियो प्रसारण को एक शर्त के तहत मंजूरी दी जिसमें कहा गया कि इस कार्यक्रम में ऐसा कुछ भी नहीं कहा जाएगा जिस से आने वाले विधानसभा के वोटर्स प्रभावित हों।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here