इस्राइल यात्रा के दौरान आतंकवाद जैसी समान चुनौतियों पर चर्चा करेंगे PM मोदी

0

इस्राइल की अपनी यात्रा की पूर्वसंध्या पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार(3 जुलाई) को कहा कि वह इस्राइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू से आतंकवाद जैसी समान चुनौतियों और आथर्कि संबंधों को मजबूत करने के तरीकों पर चर्चा करेंगे। बता दें कि पीएम मोदी मंगलवार(4 जुलाई) को इस्रायल के तीन दिवसीय दौरे पर जा रहे हैं। यह किसी भारतीय प्रधानमंत्री का पहला इस्ररायली दौरा है।

फाइल फोटो।

इस्राइल की यात्रा करने वाले पहले भारतीय प्रधानमंत्री मोदी इस यहूदी राष्ट्र की तीन दिन की यात्रा पर जाएंगे। इसके बाद वह जी-20 सम्मेलन में भाग लेने के लिए जर्मनी के हैमबर्ग जाएंगे। इस्राइल में वह राष्ट्रपति रियुवेन रूवी रिवलिन से मुलाकात करेंगे और दोनों देशों के विभिन्न कंपनियों के सीईओ तथा भारतवंशी समुदाय के लोगों से भी मिलेंगे।

वह याद वाशेम स्मारक संग्रहालय भी जाएंगे और यहूदियों के सबसे बड़े नरसंहार (होलोकास्ट) में मारे गये लोगों को श्रद्धांजलि देंगे। भारतीय प्रधानमंत्री 1918 में हैफा की आजादी के दौरान जान गंवाने वाले साहसी भारतीय सैनिकों को भी श्रद्धांजलि अपर्ति करेंगे।

उन्होंने एक बयान में कहा कि कल, मैं इस्राइल की ऐतिहासिक यात्रा शुरू कर रहा हूं जो भारत का बहुत विशेष साझेदार देश है। ऐसा करने वाला पहला भारतीय प्रधानमंत्री होने के नाते मैं इस अभूतपूर्व यात्रा को बहुत आशा से देख रहा हूं जो हमारे दोनों देशों और लोगों को करीब लाएगी।

मोदी ने ट्वीट किया, मैं, मेरे दोस्त (इस्राइली पीएम नेतन्याहू) के साथ गहन बातचीत को लेकर आशान्वित हूं जो गतिमान भारत-इस्राइल संबंधों के लिए प्रतिबद्धता साझा करते हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि वह नेतन्याहू के साथ हमारी साझेदारी के समग्र आयाम पर और आपसी लाभ के लिए विविध क्षेत्रों में इसे मजबूत करने पर गहराई से विचार-विमर्श करेंगे।

उन्होंने कहा कि हमारे पास आतंकवाद जैसी बड़ी समान चुनौतियों पर चर्चा करने का अवसर भी होगा। इस वर्ष भारत और इस्राइल अपने कूटनीतिक संबंधों के 25 वर्ष पूरे कर रहे हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here