गोरखपुर हादसा: मासूम बच्चों की मौत पर PM मोदी ने तोड़ी चुप्पी, लेकिन खुलकर नहीं किया जिक्र

0

देश के 71वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर मंगलवार(15 अगस्त) को लालकिले की प्राचीर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को संबोधित किया। अपने संबोधन के दौरान पीएम मोदी ने नोटबंदी, सर्जिकल स्ट्राइक, कश्मीर समस्या, भारत-चीन विवाद, आस्था के नाम पर हिंसा, तीन तलाक और गोरखपुर में हुई बच्चों की मौत जैसे अहम मुद्दों का जिक्र किया।मोदीगोरखपुर के बाबा राघव दास मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की कमी के कारण पिछले एक सप्ताह में 70 से अधिक बच्चों की मौत पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि पूरे देश को इन बच्चों की मौत और प्राकृतिक आपदाओं में लोगों की जान जाने का दुख है और पूरे देश की सहानुभूति प्रभावित परिवारों के साथ है।

स्वाधीनता दिवस के अवसर पर लालकिले के प्राचीर से राष्ट्र को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने बाबा राघवदास मेडकिल कालेज एवं अस्पताल के शिशु चिकित्सा विभाग में बच्चों की मौत तथा बाढ़ एवं अन्य प्राकृतिक आपदाओं में जान गंवाने वाले लोगों का जिक्र किया।

अपने संबोधन में पीएम मोदी ने कहा कि प्राकृतिक आपदाएं एक बड़ी चुनौती बन गई हैं। अच्छी वर्षा से देश की संपत्ति बढ़ती है। किन्तु मौसम में बदलाव के कारण समस्याएं उत्पन्न हो रही हैं। उन्होंने कहा कि हाल के समय में देश के कई हिस्सों में प्राकृतिक आपदा का सामना करना पड़ा। एक अस्पताल में बच्चों की मौत हो गई और पूरा देश उनके साथ है।

मोदी ने कहा कि 125 करोड़ देशवासियों की संवेदनाएं उनके साथ है तथा पूरा देश उनके साथ है। सरकार उनकी यथासंभव मदद करेगी। उन्होंने कहा कि मैं पूरी संवेदनशीलता के साथ लोगों को आासन देना चाहता हूं की सरकार लोगों की भलाई और सुरक्षा को सुनिश्चित करेगी तथा उनकी मदद के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेगी।

बता दें कि गोरखपुर के सरकारी अस्पताल में पिछले एक सप्ताह में नवजात शिशुओं समेत 70 से ज्यादा बच्चों की मौत हुई है। इनमें से अधिकतर मौतें कथित रूप से आक्सीजन की कमी से हुई हैं, लेकिन योगी सरकार इस दावे को खारिज कर चुकी है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here