डेरा प्रमुख से अब भक्तों का मोहभंग, नाले में फेंकी मिलीं बलात्‍कारी गुरमीत की तस्वीरें

0

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की एक विशेष अदालत ने साध्वी से दुष्कर्म के दो मामलों में दोषी करार दिए गए डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को सोमवार(28 अगस्त) को 20 साल की सश्रम कैद की सजा सुनाई। राम रहीम के जेल जाने के बाद अब लोगों के मन से भी उसके प्रति आस्था खत्म हो रही है। जिस राम रहीम को उसके भक्तों द्वारा पहले पूजा जाता था, जिसकी तस्वीरों को लोग अपने घरों में सजाए रखते थे, आज वो नालों में दिखाई दे रहा है।

PHOTO: ANI

जी हां, न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक, राजस्थान के श्रीगंगानगर जिले में राम रहीम की तस्वीरें ऐसी हालत में मिली हैं। ये फोटो नाले किनारे फेंके हुए मिले हैं। कुछ तस्वीरें तो जली हुई हैं। ये तस्वीरें नाले में पड़ी हैं और एक शख्स (जिसका चेहरा छुपा है) चुपचाप बस उसे देख रहा है।

इससे साफ पता चलता है कि बलात्कार मामले में दोषी ठहराए गए राम रहीम को लेकर उनके अनुयायियों का उनसे मोहभंग हो रहा है और अब उनके भक्त डेरा से दूरी बनाना चाहते हैं। खास बात ये है कि राम रहीम की ऐसी तस्वीरें बाजार में नहीं मिलतीं, इन्हें डेरा से ही खरीदाना पड़ता है। राम रहीम के समर्थकों की संख्या करोड़ों में थी, लेकिन उसके करतूतों से भक्तों को बड़ा झटका लगा है।

राम रहीम को 20 की सजा

बता दें कि सीबीआई की एक विशेष अदालत ने साध्वी से दुष्कर्म के दो मामलों में डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को 25 अगस्त, 2017 को दोषी करार दिया था, जबकि 28 अगस्त को 10-10 साल की सश्रम कैद की सजा सुनाई गई थी। अब बाबा को 20 साल जेल में रहना होगा, क्योंकि दोनों सजाएं एक के बाद एक चलेंगी। यानी एक सजा पूरी होने के बाद दूसरी शुरू होगी।

जेल के साथ ही विशेष सीबीआई जज जगदीप सिंह ने राम रहीम पर दोनों मामलों में 15-15 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया है। जुर्माना न अदा करने पर राम रहीम को दो-दो साल की और सश्रम कैद भुगतनी होगी। इनमें से 14-14 लाख रुपये की राशि दोनों पीड़िताओं को दी जाएगी। फिलहाल, राम रहीम को रोहतक की सुनारिया जेल में रखा गया है। राम रहीम को दोषी करार दिए जाने वाले दिन हुई हिंसा में 30 से ज्यादा लोगों की जान गई थी, जबकि 250 से ज्यादा घायल हो गए थे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here