कुलभूषण जाधव की मां-पत्नी से पाक में हुई बदसलूकी, चूड़ी-बिंदी और मंगलसूत्र उतरवाकर करवाई मुलाकात, पाकिस्तानी मीडिया ने भी बदसलूकी

0

पाकिस्तान में फांसी की सजा पाए भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव से मुलाकात के बाद उनका परिवार भारत लौट आया है। दिल्ली लौटने के बाद कुलभूषण जाधव की मां-पत्नी ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात कर अपनी आपबीती बताई है। जिसके बाद जाधव से उनकी मां और पत्नी की मुलाकात के दौरान पाकिस्तान के तौर-तरीकों पर भारत ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। मुलाकात से पहले जाधव के परिवार के साथ पाकिस्तानी अधिकारियों द्वारा बदसलूकी की खबर आ रही है।भारत के विदेश मंत्रालय ने कुलभूषण जाधव से उनके परिवार के मुलाकात को लेकर कई चौंकाने वाले खुलासे किये हैं। विदेश मंत्रालय ने बताया कि जाधव की मां और पत्नी जब उनसे मिलने पाकिस्तान गए तो उनके साथ बदसलूकी की गई। उन्होंने जाधव की पत्नी के जूते उतरवा लिए और मुलाकात के बाद भी जूते नहीं लौटाए।

कुलभूषण की मां और पत्नी को मराठी भाषा में बातचीत करने की इजाजत नहीं दी। मुलाकात से पहले मंगलसूत्र, चूड़ी, कंगन और जूत तक उतरवाए गए। भारतीय विदेश मंत्रालय ने इसपर सख्त आपत्ति जताई है और इसे गैर जिम्मेदाराना हरकत बताया है।

भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा कि जाधव की मां को उनकी मातृभाषा में बात तक नहीं करने दी गई। जाधव की मां-पत्नी के कपड़े बदलवा दिए गए और चूड़ी-बिंदी यहां तक की मंगलसूत्र भी उतरवा लिए गए थे। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ने सामान्य शिष्टाचार तक का पालन नहीं किया।

पाकिस्तानी मीडिया ने भी की बदसलूकी 

पाकिस्तान के अधिकारियों के अलावा वहां की मीडिया ने भी जाधव की मां और पत्नी के साथ बदसलूकी की। इस्लामाबाद में स्थित विदेश मंत्रालय के कार्यालय में जब जाधव की मां-पत्नी पहुंचे थे, तो पाकिस्तानी मीडियाकर्मियों ने सवाल पर सवाल पूछकर दोनों को परेशान कर दिए थे। पाकिस्तानी मीडिया ने मां-पत्नी से पूछा, “क्या आप एक आतंकवादी की मां हैं? क्या आप अपने बेटे के अपराध के बयान से सहमत हैं? आपका बेटा हजारों पाकिस्तानियों का खूनी है आपको जवाब देना चाहिए, आप क्यों भाग रही हैं?

कुलभूषण जाधव से मां-पत्ती की हुई मुलाकात

बता दें कि पाकिस्तान की जेल में कथित रूप से जासूसी के आरोप में बंद भारतीय नागरिक कुलभूषण से सोमवार (25 दिसंबर) को उनकी मां और पत्नी ने करीब 22 महीने में पहली बार मुलाकात की। हालांकि, इस मुलाकात के दौरान मां और बेटे के बीच कांच की दीवार थी और दोनों की इंफोकॉम से बात हुई। मुलाकात के ठीक पहले पाक ने पैंतरा बदलते हुए जाधव को मां-पत्नी के गले नहीं लगने दिया।

पाकिस्तान के विदेश मंत्रलय विभाग की इमारत में यह मुलाकात दोपहर करीब डेढ़ बजे शुरू हुई। मुलाकात के लिए पाक सरकार ने 35 मिनट का समय किया था। लेकिन यह करीब 40 मिनट तक चली। पाक विदेश मंत्रलय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने ट्वीट किया, पाकिस्तान कायदे आजम मोहम्मद अली जिन्ना के जन्मदिन पर जाधव की पत्नी और मां की उनसे मुलाकात की मानवीय कदम के तौर पर अनुमति देता है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here