VIDEO: उमर अब्दुल्ला ने शेयर किया सेना की जीप पर बंधे कश्मीरी युवक का वीडियो

0

श्रीनगर में स्थानीय युवकों द्वारा चुनावी ड्यूटी के दौरान सीआरपीएफ जवानों की पिटाई का वीडियो वायरल होने के बाद राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने कुछ तस्वीरें और एक वीडियो ट्विटर पर शेयर कर एक नए विवाद को जन्म दे दिया है।

तस्वीरों और वीडियो में दिख रहा है कि एक कश्मीरी युवक को जीप के बोनट पर बांधा गया है। उमर ने इन तस्वीरों के साथ लिखा है कि इस युवक को आर्मी जीप पर इसलिए बांधा गया है, ताकि उन पर पत्थर न फेंके जाएं। यह बहुत खौफनाक है!

उन्होंने अपने अगले ट्वीट में एक 15 सेकंड का वीडियो क्लिप शेयर किया है। वीडियो के साथ उन्होंने लिखा है कि इसका वीडियो भी है। इसमें एक चेतावनी सुनी जा सकती है कि पत्थरबाजों का यह अंजाम होगा। इस मामले में तुरंत जांच होनी चाहिए।

Also Read:  भारतीय फुटबॉल टीम फीफा विश्व रैंकिंग में पिछले 6 साल में सर्वश्रेष्ठ स्थान पर

वीडियो में दिख रहा है कि इसी जीप से लाउडस्पीकर पर चेतावनी दी जा रही है कि ‘ऐसा हाल होगा कश्मीर वालों का, यह हाल होगा।’ जीप के पीछे एक ट्रक भी जाता नजर आ रहा है। हालांकि, इस वीडियो की प्रामाणिकता की अभी तक पुष्टि नहीं हो पाई है, इसलिए यह कहना मुश्किल है कि उमर के आरोपों में कितनी हकीकत है। वहीं, सेना ने एक बयान जारी कर कहा है कि इस मामले की जांच की जा रही है।

Also Read:  निर्भया कांड: चार दोषियों की अपील पर सुप्रीम कोर्ट आज सुनाएगा अहम फैसला

बता दें कि इससे पहले सोशल मीडिया पर इन दिनों एक और वीडियो बहुत तेजी से वायरल हो रहा है। इस वायरल वीडियो में कश्मीरी युवक चुनाव ड्यूटी में लगे CRPF (केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल) जवानों के साथ बदसलूकी करते नजर आ रहे थे। वे न केवल उनके खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे, बल्कि जवानों के साथ हाथापाई भी कर रहे थे।

Also Read:  उत्तराखंड: पिथौरागढ़ में बादल फटने की अलग-अलग घटनाओं में 6 लोगों की मौत

इस सबके बावजूद हथियारों से लैस सेना के जवान अपना धैर्य बनाए हुए थे। ये जवान श्रीनगर और बड़गाम के पोलिंग बूथ से EVM और पोलिंग पार्टी को लेकर वापस आ रहे थे। हालांकि, इस मामले में CRPF की शिकायत के आधार पर जम्मू-कश्मीर पुलिस ने गुरुवार(13 अप्रैल) को प्राथमिकी दर्ज कर ली है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here