जम्मू-कश्मीर: शहीद जवान औरंगजेब के परिवार से मिलीं रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण

0

पिछले दिनों जम्मू-कश्मीर में शहीद सेना के जवान औरंगजेब के परिवार से बुधवार (20 जून) को रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने मुलाकात की और उनके परिवार वालों का हौसला बढ़ाया। इस दौरान शहीद औरंगजेब के परिवार के बीच काफी देर तक रूकीं। बता दें कि आतंकियों ने पुलवामा से औरंगजेब का अपहरण कर लिया था, जब वह ईद मनाने अपने घर जा रहे थे। इसके बाद 14 जून को उनका गोलियों से छलनी शव बरामद हुआ था।

इससे पहले सोमवार को सेना प्रमुख जरनल बिपिन रावत भी शहीद सैनिक के परिवार से मिले थे। बुधवार सुबह दिल्ली से कश्मीर के लिए रक्षा मंत्री रवाना हुईं, जिसके बाद वह जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले स्थित औरंगजेब के घर गईं। इस दौरान रक्षामंत्री ने औरंगजेब के पिता मोहम्मद हनीफ और भाई से बात कर उनका हौसला बढ़ाया।

कहा जा रहा है कि राज्य में पीडीपी-बीजेपी के गठबंधन वाली सरकार के गिरने और राज्यपाल शासन लागू होने के बाद रक्षामंत्री के इस दौरे में आतंकियों के खिलाफ कड़ा रुख अख्तियार करने का एक राजनीतिक संदेश भी है। बताया जा रहा है कि रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण परिवार से मिलने के बाद बाद जम्मू में सेना के अधिकारियों के साथ मीटिंग करेंगी।

बता दें कि 14 जून को जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों की कायराना हरकत एक बार फिर से देखने को मिली। पुलवामा में आतंकवादियों ने सेना के जवान औरंगजेब का अपहरण किया था, बाद में देर शाम उनकी हत्या कर दी। जवान के अगवा होने की खबर के बाद से पुलिस और सेना ने तलाशी अभियान चला रखा था। जवान का शव कालम्पोरा से करीब 10 किलोमीटर दूर गुस्सु गांव में मिला, उनके सिर और गर्दन पर गोलियों के निशान थे।

पुलिस ने बताया कि कंपनी कमांडर के करीबी औरंगजेब ईद मनाने के लिए गुरुवार (14 जून) की सुबह अपने घर राजौरी जा रहे थे कि उसी दौरान पुलवामा के कालम्पोरा से आतंकवादियों ने उनका अपहरण कर लिया। पुलिस और सेना के संयुक्त दल को औरंगजेब का शव कालम्पोरा से करीब 10 किलोमीटर दूर गुस्सु गांव में मिला, उनके सिर और गर्दन पर गोलियों के निशान थे।

उन्होंने बताया कि 4 जम्मू-कश्मीर लाइट इन्फेंटरी के औरंगजेब फिलहाल शोपियां के शादीमार्ग स्थित 44 राष्ट्रीय राइफल में तैनात थे। अधिकारियों ने बताया कि सुबह करीब नौ बजे यूनिट के सैनिकों ने एक कार को रोककर चालक से औरंगजेब को शोपियां तक छोड़ने को कहा। लेकिन आतंकवादियों ने उस वाहन को कालम्पोरा में रोका और जवान का अपहरण कर लिया। बाद में उनका गोलियों से छलनी शव बरामद हुआ था। 16 जून को उन्हें अंतिम विदाई दी गई थी।

जम्मू-कश्मीर: भारतीय सेना के जाबांज शहीद जवान औरंगजेब का आखिरी वीडियो

जम्मू-कश्मीर: भारतीय सेना के जाबांज शहीद जवान औरंगजेब का आखिरी वीडियो सामने आया है, जिसमें आतंकी बंदूक के दम पर जवान को एक पेड़ से बंधक बनाकर पूछताछ कर रहे हैं। वीडियो में देखिए, आंतकियों ने औरंगजेब से क्या-क्या पूछा?http://www.jantakareporter.com/hindi/aurangzebs-father-deadline-for-modi-government/192374/

Posted by जनता का रिपोर्टर on Friday, 15 June 2018

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here