पत्रकारिता की नैतिकता पर नेपाल की महिला पत्रकार ने ‘रिपब्लिक टीवी’ के संस्थापक अर्नब गोस्वामी को दिखाया आईना, देखें वीडियो

1

एक नेपाली महिला पत्रकार ने पत्रकारिता की नैतिकता पर अंग्रेजी समाचार चैनल ‘रिपब्लिक टीवी’ के एंकर और संस्थापक अर्नब गोस्वामी को आईना दिखाया है। नेपाली पत्रकार ने भारत के विवादास्पद टीवी एंकर अर्नब गोस्वामी पर नेपाल के खिलाफ हाल ही में अपने पड़ोसी देश के राजनीतिक मानचित्र के छिड़े हुए विवाद को लेकर किए गए एक टीवी डिबेट को लेकर जमकर निशाना साधा। विवादास्पद राजनीतिक मानचित्र को लेकर अर्नब गोस्वामी और उनके समर्थक आरएसएस के मेहमानों ने नेपाल पर आरोप लगाया था कि वह यह सब कथित रूप से चीन के इशारे पर कर रहे हैं।

अर्नब गोस्वामी

पत्रकार शैल सुमन सिलवाल (Shail Suman Silwal) ने अपने फेसबुक पर अपना एक वीडियो जारी किया, जो अब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। उन्होंने अपने वीडियो में कहा, “प्रिय अर्नब गोस्वामी, यह मजेदार है कि आप इस ख्याली पुलाव (काल्पनिक पकवान) को कैसे बना रहे हैं कि नेपाल चीन के लिए एक कठपुतली है। यह मजेदार हो जाता है जब आप कहते हैं कि लिम्पियाधुरा, कालापानी और लिपुलेख बिना किसी होमवर्क के भारत से हैं।

अर्नब गोस्वामी ने अपने हालिया टीवी कार्यक्रम में कहा था कि, “भारत ने नेपाल को भारतीय क्षेत्र पर अन्यायपूर्ण और भयावह झूठे दावे करने के खिलाफ चेतावनी दी है … जो आप सोचते हैं वह आपके सर्वोत्तम हित में है लेकिन दीर्घकालिक परिणामों के बारे में सोचें।”

उस पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए नेपाली पत्रकार ने कहा, “आप कैसे मानते हैं कि नेपाल को अपने स्वयं के राजनीतिक मानचित्र को प्रकाशित करने से पहले अनुमोदन या अनुमति लेनी होगी। यह पागल हो जाता है जब आपको लगता है कि भारत के पास संप्रभु नेपाल पर अधिकार या शक्ति है कि वह अपने देश पर शासन कैसे करे। क्या भारत ने अपने स्वयं के राजनीतिक मानचित्र को प्रकाशित करने से पहले अनुमोदन या अनुमति मांगी थी?”

नेपाली पत्रकार ने कहा, “यह हास्यास्पद है कि आपने चीन को इस समीकरण में कैसे रखा। लेकिन अब आपके पास, यह उच्च समय है कि आप बांग्लादेश, पाकिस्तान, नेपाल और चीन के साथ अपने समीकरण का एहसास करें। चीन ने यह कार्रवाई करने के लिए नेपाल पर अहंकार नहीं किया है।”

नेपाली पत्रकार ने आरएसएस समर्थक भारतीय सेना के पूर्व जनरल लेफ्टिनेंट जनरल (सेवानिवृत्त) जीडी बख्शी को भी नहीं बख्शा, जिन्होंने कहा था कि भारत और नेपाल के बीच रोटी-बेटी (रोटी और बेटी) का रिश्ता था। उसने कहा, “आप रोटी-बेटी के बारे में बात करते हैं लेकिन ग़ुथ पैथी (घुसपैठियों) के रूप में कार्य करते हैं।”

पत्रकार शैल सुमन सिलवाल ने गोस्वामी को पत्रकारिता की मूल बातें भी बताईं। नेपाल की महिला पत्रकार का यह वीडियो अब सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है, उनके इस वीडियो पर सोशल मीडिया यूजर्स भी जमकर अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं।

देखें वीडियो

1 COMMENT

  1. All off you who think that kalapani, limpiyadhura, lipulake is Indian territory
    Please Buy big scarf in advance coz soon it will help you to cover (hide) your face when you have to vacate our territory

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here