केंद्रीय मंत्री अनिल माधव दवे के सम्मान में आधा झुका रहेगा राष्ट्रीय ध्वज

0

केंद्रीय पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) अनिल माधव दवे के सम्मान में दिल्ली सहित सभी राज्यों की राजधानियों में सरकारी इमारतों पर राष्ट्रीय ध्वज आधे झुके रहेंगे। बता दें कि दवे का आज(18 मई) सुबह निधन हो गया। दवे को बेचैनी की शिकायत के बाद एम्स ले जाया गया। एम्स में 60 वर्षीय दवे को मृत घोषित कर दिया गया।एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि सरकार ने आज भारी दुख के साथ अनिल माधव दवे के निधन की घोषणा की। साथ ही केंद्र ने फैसला किया है कि दिवंगत नेता के सम्मान में आज दिल्ली और सभी राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों की राजधानियों में सभी सरकारी इमारतों पर राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका रहेगा।

अंतिम संस्कार के दिन, जहां अंतिम संस्कार होगा, वहां राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका रहेगा। दवे वर्ष 2009 से राज्यसभा के सदस्य थे। वह नदी संरक्षण के विशेषज्ञ थे और ग्लोबल वार्मिंग के मुद्दे पर संसदीय मंच के सदस्य भी थे। पर्यावरण का विषय उनके दिल के बेहद करीब था। उन्हें पिछले साल पर्यावरण मंत्री बनाया गया था।

वह लंबे समय तक राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ(आरएसएस) से जुड़े रहे और वर्ष 2003 में मध्य प्रदेश के तत्कालीन मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को हराने के लिए रणनीति बनाकर चर्चा में आए थे। राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने उनके आकस्मिक निधन पर शोक जताया।

राष्ट्रपति के अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट कर उनके निधन पर शोक जताया है। पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा, ‘‘अपने मित्र एवं सम्मानित सहकर्मी पर्यावरण मंत्री अनिल माधव दवे जी के आकस्मिक निधन से सदमे में हूं। मैं संवेदनाएं व्यक्त करता हूं।’’प्रधानमंत्री ने कहा कि दवे को एक समर्पित लोकसेवक के तौर पर याद किया जाएगा, जो पर्यावरण संरक्षण के प्रति बेहद जुनूनी थे। एक अन्य ट्वीट में मोदी ने कहा, ‘‘कल देर शाम तक मैं अनिल माधव दवे जी के साथ था और मुख्य नीतिगत मुद्दों पर चर्चा कर रहा था। उनका निधन एक निजी क्षति है।’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here