योग दिवस के बाद अब ‘राष्‍ट्रीय आयुर्वेद दिवस’ मनाएगी मोदी सरकार

0

योग दिवस के बाद केन्‍द्र सरकार ने राष्‍ट्रीय आयुर्वेद दिवस मनाने का फैसला किया है। नरेंद्र मोदी सरकार के आयुष विभाग द्वारा इस संबंध में सभी राज्‍यों को एक सर्कुलर भेजा गया है।

जिसमें कहा गया है कि इस प्राचीन विज्ञान को बेहद नजरअंदाज किया गया है। भारतीय परंपराओं के अनुसार, धनतेरस को राष्‍ट्रीय आयुर्वेद दिवस की तरह मनाया जाएगा। आयुर्वेद, योग और नेचुरोपैथी, यूनानी सिद्ध और होम्‍याेपैथी मंत्रालय (आयुष) के सलाहकार मनोज निसारी ने द इंडियन एक्‍सप्रेस को बताया कि देशभर के राज्‍यों को इस फैसले के बारे में जानकारी दे दी गई है और इसकी थीम ‘मधुमेह से बचाव और नियंत्रण के लिए आयुर्वेद’ होगी।

janta ka reporter
janta ka reporter

जनसत्ता की खबर के अनुसार,  निसारी ने कहा कि धनवंतरि आयुर्वेद के देवता हैं और यह उचित होगा कि राष्‍ट्रीय आयुर्वेद दिवस धनव‍ंतरि जयंती या धनतेरस पर मनाया जाए। राज्‍य आयुष निदेशालयों, आयुर्वेद शिक्षा संस्‍थानों और फार्मास्‍यूटिकल कंपनियों द्वारा इस अवसर पर सार्वजनिक चर्चा, सेमिनार और प्रदर्शन लगाए जाएंगे। निसारी ने कहा कि इस मौके पर हेल्‍थ चेक-अप कैंप और जागरूकता कार्यक्रम चलाए जाएंगे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here