एकता की मिसाल: ईद के मौके पर मुस्लिम समुदाय के लोगों ने गुरुद्वारे में पढ़ी नमाज

0

एक तरफ जहां देश के कई राज्यों में धर्म के नाम पर लोगों को बांटने का प्रयास किया जा रहा है। वहीं दूसरी और ईद-उल-अजहा के मौके पर उत्तराखंड से सांप्रदायिक सौहार्द की एक अनोखी मिसाल पेश की है। यहां बारिश के कारण मुस्लिम समुदाय के लोगों ने गुरुद्वारे में नमाज अदा की।

मुस्लिम
फोटो- ANI

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, उत्तराखंड के चमोली जनपद स्थित जोशीमठ में शुक्रवार रात से ही तेज बारिश हो रही है, जिसकी वजह से उन्हें खुले मैदान में नमाज पढ़ने में दिक्कत आ रही थी। इसी को देखते हुए जोशीमठ के गुरुद्वारे प्रबंधक ने मुस्लिम भाइयों से गुरुद्वारे में नमाज अता करने के लिए आमंत्रित किया।

इसके बाद गुरुद्वारे में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने शनिवार(2 सितंबर) को ईद-उल-अजहा की नमाज पढ़ी। इस दौरान मुस्लिम सम्प्रदाय के लोगों ने देश की एकता, अखंडता, शान्ति व अमन चैन की दुआ मांगी। नमाज के बाद अन्य धर्म के लोगों ने भी ईद की मुबारक दी और एक दूसरे के गले लगे।

गुरूद्वारा प्रबंधन कमेटी ने भी गुरूद्वारा मे नमाज अदा करने के लिये गुरुद्वारे में जगह देकर साम्प्रदायिक सौहार्द का मिसाल कायम की है। ख़बरों के मुताबिक, नमाज अदा करने के दौरान हिन्दू, सिक्ख सहित अन्य सम्प्रदाय के लोग मौजूद थे। हिन्दू, मुस्लिम व सिक्ख भाइयों ने एक दूसरे के गले मिलकर मिठाईयां खिलाई और बधाईंया दी।

ख़बरों के मुताबिक, यह कोई पहली बार नहीं है जब गुरुद्वारे की ओर से एकता की ये मिसाल पेश की गई हो। साल 2012 में भी बारिश के चलते गुरुद्वार में नमाज पढ़ी गई थी। गुरुद्वारे की ओर से कहा गया कि ये कदम इस बात का संदेश देगा उत्तराखंड में सांप्रदायिक सौहार्द कायम है।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here