VIDEO: बीजेपी कार्यक्रम में ‘भक्त’ द्वारा पूछे गए कठिन सवाल में फंस गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, नहीं दे पाए जवाब

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार (19 दिसंबर) को तमिलनाडु व पुडुचेरी के भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। इस दौरान एक कार्यकर्ता (भक्त) ने उनसे एक कठिन सवाल पूछ लिया जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी फंस गए और वह कार्यकर्ता को जवाब नहीं दे पाएं।

मोदी

समर्थकों के साथ पीएम मोदी की बातचीत का वीडियो बीजेपी के अपने आधिकारिक यूट्यूब अकाउंट पर शेयर किया है। वीडियो में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पुडुचेरी, वेल्लोर, कांचीपुरम, विलुप्पुरम और दक्षिण चेन्नई से बूथ श्रमिकों के साथ बातचीत कर रहें है। 30 मिनट से ज्यादा के इस वीडियो को अब तक 7 हजार से ज्यादा लोग देख चुके है। इसी वीडियो में एक कार्यकर्ता (भक्त) ने असामान्य रूप से कठिन सवाल उठाए, जिसका जवाब पीएम मोदी नहीं दे पाए और हंसते हुए उन्होंने उनके सवाल को ठाल दिया।

तमिलनाडु के कांचीपुरम में इकट्ठे हुए समर्थकों से बात करने के बाद स्क्रीन का कैमरा पुडुचेरी की और स्थानांतरित किया गया। जहां तमिलनाडु की तरह, एक समूह में समर्थक एकत्रित थे। उन्हें संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा, “मैं इस साल की शुरुआत में पुडुचेरी जाने के लिए भाग्यशाली था। पुडुचेरी बहुत सुंदर है और एक पर्यटक स्थल बन गया है। पुडुचेरी से बात कौन करना चाहता है?

तभी माइक एक आदमी को सौंपा गया, जिसने खुद का नाम निर्मल कुमार जैन बताया। उन्होंने बड़ी ही प्रशंसा के साथ अपना प्रश्न शुरू किया और कहा कि वह भारत को कैसे बदल रहे है। निर्मल कुमार ने एक लेटर को देख पढ़ते हुए कहा, ‘माननीय प्रधानमंत्री जी… मैं आभारी हूं कि मुझे आपसे बात करने का मौका मिला। मेरा सवाल यह है कि आप देश को बदलने के लिए जो काम कर रहे हैं वह वास्तव में एक अच्छा कदम है। लेकिन मध्य वर्ग के लोगों का मानना ​​है कि आपकी सरकार केवल हर तरह से और सभी तरीकों से टैक्स एकत्रित करने में ही व्यस्त है।’

उन्होंने आगे कहा, ‘उन्हें वह विश्वास नहीं मिला जो वे उम्मीद कर रहे थे। उदाहरण के लिए आईटी क्षेत्र में, ऋण प्रसंस्करण प्रक्रिया और बैंक लेनदेन शुल्क और जुर्माना, वे कमियों (आपके शासन के) कमी महसूस कर रहे हैं। यह मेरा अनुरोध है कि आपकी पार्टी को मध्यम वर्ग के लोगों को राहत देना चाहिए। वैसे ही जैसे आपकी पार्टी की जड़े उनसे टैक्स एकत्रित करने में लगे है। धन्यवाद।’

पीएम मोदी स्पष्ट रूप से इस तरह के सवाल की उम्मीद नहीं कर रहे थे। उन्होंने हंसी में इस सवाल को ठाल दिया। उन्होंने हंसते हुए कहा, ‘धन्यवाद निर्मल जी, आप एक व्यापारी हैं, इसलिए आप स्वाभाविक रूप से व्यापार के बारे में ही बात करेंगे। हम आम लोगों की देखभाल करने के पक्ष में हैं और रहेंगे हम आपको विश्वास दिलाते हैं।’ लेकिन उन्होंने अपने दर्शकों को इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी। स्पष्ट रूप से असहज पीएम मोदी ने पहले अपने बाएं को देखा और कहा चलीये। पुडुचेरी को वानाक्कम!

(यह देखने के लिए आप वीडियो को 14 मिनट के आगे से देखे)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here