मोदी जी मैं कोई राहुल गांधी, सोनिया गांधी या रोबर्ट वाड्रा नहीं हूँ जो डर जाऊं : अरविन्द केजरीवाल

1

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बड़ा हमला साधते हुए कहा है कि वो कोई राहुल गांधी, रोबर्ट वाड्रा या सोनिआ गांधी नहीं हैं जो दर जाएंगे।

टैंकर घोटाले में खुद पर FIR होने के बाद केजरीवाल ने मंगलवार (21 मई) को प्रेस कॉन्फ्रेंस करके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने नए हमले का निशाना बनाया।

उन्होंने कहा फिर उस बात को दुहराया जो पिछले दिनों ट्वीट किया था कि पीएम मोदी कुछ भी कर लें, पर वह डरेंगे नहीं।

Also Read:  अब आप पासपोर्ट के लिए हिंदी में भी कर सकते हैं ऑनलाइन आवेदन

केजरीवाल ने कहा, ” ‘मैं सोनिया गांधी नहीं हूं जो झुक जायेंगे। जितनी मर्जी रेड करवा लो, मैं डरूंगा नहीं। मुझे बेईमानी बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं है। मैं कोई रोबर्ट वाड्रा नहीं हूँ जिसके साथ आप डील कर लेंगे और मैं राहुल गांधी भी नहीं हूँ जिसे आप डरा लेंगे। ”

केजरीवाल ने आगे कहा , “अगर पीएम मोदी दलितों पर अत्याचार करेंगे तो मैं दलितों के साथ खड़ा नजर आउंगा। अगर मोदी गन्ना किसानों की नहीं सुनेंगे तो मैं उनके हक में आवाज उठाउंगा। अगर आप FDI लाकर देश को विदेशियों के हाथों बेच देंगे तो मैं विरोध करूंगा। एनडीएमसी अधिकारी एमएम खान के हत्या में आपके सांसद का नाम आएगा तो मैं उनका विरोध करूंगा।”

Also Read:  सुब्रमनियन स्वामी ने प्रधानमंत्री मोदी को लिखी चिट्ठी, NDTV और इस के पत्रकारों के खिलाफ CBI और ED की जांच की मांग की

मध्यप्रदेश के व्यापम घोटाले, राजस्थान में वसुंधरा राजे और ललित मोदी से जुड़े घोटालों और गुजरात में मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल से जुड़े ज़मीन घोटालों का ज़िक्र करते हुए केजरीवाल ने कहा, ‘अगर आप व्यापम में शिवराज सरकार को बचाने की कोशिश करेंगे तो मैं आवाज उठाउंगा, अगर आप ललित मोदी केस में वसुंधरा राजे की मदद करेंगे तो मैं आवाज उठाउंगा। जमीन घोटाले में आप आनंदीबेन पटेल को बचाएंगे तो मैं आपके खिलाफ खड़ा रहूंगा।’

Also Read:  BSF जवान तेज बहादुर के पिता ने दिया बयान, जब बेटा आया तो कह रहा था अब नहीं रह सकता खाना नहीं मिलता

1 COMMENT

  1. मोदी जी हो या केजरीवाल जी या फिर राज नाथ सिंह जी सब मिल कर जनता को बेवकूफ बना रहे है।
    मैं आप को बता रहा हू इन की सच्चाई केंद्र सरकार के इसारे पर दिल्ली पुलिस आम जनता को प्रतारित कर रही हैं।
    ऐसी एक घटना बता रहा हू । बदरपुर थाना के एक पुलिस वाले ने एक दुकान पर खड़े तिन आदमी को गिरफ्तार किए साराब पिने के जुर्म मे यह घटना 18 जून की रात की है।
    जो किसी तरह से लीगल नही है क्यों कि वो किसी धार्मिक या सामाजिक स्थान पर बैठ के दारू नही पिरहे थे।हा लेकिन दारू पिये जरूर थे। उन लोगों को एम्स ले जा कर रिपोर्ट बनाए।और रात को एक आदमी उस मे से जमानत पर चला गया।
    बचे दो आदमी तो एक से 2000रू . लेकर छोड़ दिया और वहीं तिसरे आदमी का जमानत करवाया ।तो जिससे रूपये लिए उसे छोड़ दिया बाकी दो आदमी को साकेत कोर्ट 22 को बुलाया है।
    तो इस पुरा तथ्य को मैं टविटर पर राज नाथ सिंह जी पी एम ओ तथा अरबिंद केजरीवाल को भेजा लेकिन ये एक दुसरे पर आरोप पर्तीरोप लगाने मे बयस्त है ।आप लोग बताईये कि पुलिस वाले ने थिक किया है या गलत।कोई नेता प्रधान मंत्री या मुख्य मंत्री या फिर गृहमंत्री किसी ने इस केस का संगयान नही लिए ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here