दिल्ली मेट्रो में महिलाओं को चाकू, माचिस, लाइटर रखने की इजाजत, DMRC के नए आदेश

0

दिल्ली मेट्रो में महिलाएं अब यात्रा करते वक्त आत्मरक्षा के लिए 4 इंच तक का चाकू रख सकती हैं। लाइटर और माचिस रखने पर लगी पाबंदी भी हट गई है। बेंगलुरु में छेड़छाड़ की घटनाओं को ध्यान में रखते हुए महिला सुरक्षा को लेकर यह कदम उठाया है।

बेंगलुरु में छेड़छाड़ की घटनाओं को ध्यान में रखते हुए सीआईएसएफ ने महिला सुरक्षा को लेकर अहम कदम उठाया है।दिल्ली मेट्रो यात्रा के दौरान लाइटर, माचिस और चाकू जैसी प्रतिबंधित वस्तुओं को ले जाने की मनाही थी, लेकिन अब महिलाएं आत्म-सुरक्षा के लिए चार इंच तक का छोटा चाकू साथ लेकर चल सकती हैं।  लेकिन अधिकारी चाहें तो उन्हें एंट्री से रोक सकते हैं।

इसके अलावा प्रति यात्रियों को टूल्स ले जाने के लिए अनुमति भी दे दी गई है। दरअसल, कई मजदूर मेट्रो से यात्रा करते हैं और काम के लिए टूल्स ले जाने के लिए हमसे कई बार अनुरोध किया जाता था। इसे देखते हुए यह फैसला किया गया है हालांकि, हम टूल्स की जांच करते हैं और उनकी इंट्री रजिस्टर में करते हैं, ताकि जरूरत पड़ने पर यात्री का पता लगाया जा सके।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सेंट्रल इंडस्ट्रियल सिक्यूरिटी फ़ोर्स(सीआईएसएफ) के एक अधिकारी ने बताया कि विभाग द्वारा यह फैसला लिया गया है कि महिलाएं अपनी सुरक्षा के लिए अब छोटा चाकू लेकर मेट्रो में यात्रा कर सकती हैं।

तेज धार चाकू, तलवार, बंदूक, आग्नेयास्त्रों, विस्फोटक सामग्री, ज्वलनशील वस्तुओं, खतरनाक रसायनों और शराब की बोतलें अभी भी मेट्रो के अंदर प्रतिबंधित 54 आइटम की सूची में शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here