MCD चुनाव में BJP की प्रचंड जीत, कांग्रेस और AAP की शर्मनाक हार, जानिए- नतीजों पर किसने क्या कहा?

0

दिल्ली नगर निगम(MCD) चुनाव की तीनों निगमों (दक्षिणी दिल्ली, पूर्वी दिल्ली, उत्तरी दिल्ली) की सभी 270 सीटों के नतीजे सामने आ गए हैं। आम आदमी पार्टी (AAP) और कांग्रेस को करारी शिकस्त देते हुए भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) प्रचंड जीत हासिल की है। 

तीनों नगर निगमों की 270 वार्डो पर हुए चुनाव के बुधवार(26 अप्रैल) को आए नतीजों में भाजपा को 181 सीटें मिलीं, जबकि ‘आप’ 48 सीटों के साथ दूसरे और 30 सीटों के साथ कांग्रेस तीसरे पायदान पर खिसक गई। निगम चुनाव में 2537 प्रत्याशियों में से 270 के सिर जीत का सेहरा बंधेगा।

पूर्वी दिल्ली(63 वार्ड) नगर निगम में बीजेपी ने 47, आप ने 11 और कांग्रेस ने 3 वार्ड जीते। वहीं, दक्षिणी दिल्ली(104 वार्ड) निगम में बीजेपी को 70, आप को 16 और कांग्रेस को 12 वार्डो पर जीत मिली। उत्तरी दिल्ली निगम(103 वार्ड) में बीजेपी ने 64, आप ने 21 और कांग्रेस ने 15 वार्ड जीते।

दो साल में ‘आप’ का वोट प्रतिशत आधा हो गया है। 2015 के विधानसभा में ‘आप’ को 54.3 फीसदी वोट मिले थे। लेकिन निगम चुनाव में 26.23 प्रतिशत मिले हैं। वहीं, कांग्रेस का वोट प्रतिशत बढ़ा है। विधानसभा चुनाव में उसे 9.7 फीसदी वोट मिले थे। जबकि, निगम चुनाव में पार्टी को 21.11 प्रतिशत वोट मिले हैं। वहीं, बीजेपी का वोट प्रतिशत 4 फीसदी बढ़ा है। उसे 36.18 फीसदी वोट मिले हैं।

इस चुनाव में बीजेपी की पांच, कांग्रेस की 92 और आम आदमी पार्टी की 40 सीटों पर जमानत जब्त हुई है। तीनों बड़े दलों और अपनी चुनौती पेश कर रहे अन्य विभिन्न छोटे दलों ने चुनाव प्रचार मुहिम के दौरान जबरदस्त प्रचार किया था। इन चुनावों के लिए 53.58 प्रतिशत मतदान हुआ था। यह आंकड़ा वर्ष 2012 में हुए चुनाव से थोड़ा अधिक है।

तीनों निगमों में कुल 272 सीट हैं। इन सीटों में से 270 सीट पर ही मतदान हुआ था और दो सीटों पर प्रत्याशियों की मौत होने के कारण मई में उपचुनाव कराया जाएगा। इसके लिए आयोग ने अधिसूचना जारी कर दी है। इस चुनाव में दिल्ली के 1.32 करोड़ मतदाताओं में से 7139994 ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया।

Also Read:  बीजेपी विधायक संगीत सोम के खिलाफ मुकदमा दर्ज, प्रचार के दौरान विवादित वीडियो दिखाने का आरोप

PM मोदी ने दिल्ली के लोगों और बीजेपी दिल्ली को दी बधाई

PM Modi
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीजेपी पर भरोसा जताने और MCD चुनावों में जीत दिलाने के लिए दिल्ली के लोगों को धन्यवाद दिया। उन्होंने ट्वीट किया, ‘बीजेपी में विश्वास जताने के लिए दिल्ली की जनता के प्रति आभार। मैं बीजेपी फॉर दिल्ली टीम के कड़े श्रम की सराहना करता हूं, जिसने एमसीडी में शानदार विजय दिलवाई।’

केजरीवाल ने BJP को दी बधाई

इस चुनाव में करारी हार के बाद आम आदमी पार्टी(आप) के कई नेताओं ने एक बार फिर EVM पर फिर सवाल खड़े किए हैं। हालांकि, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बीजेपी को जीत की बधाई देते हुए साथ चलने का वादा किया है।

MCD Elections

नतीजे आने के बाद सीएम अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया, ‘तीनों एमसीडी में जीत के लिए बीजेपी को बधाई। दिल्ली को बेहतर बनाने के लिए एमसीडी के साथ मिलकर काम करेंगे।’

सिसोदिया ने EVM पर उठाए सवाल

वहीं, दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा है कि बीजेपी ने EVM पर रिसर्च कर महारत हासिल कर ली है और इसी के दम पर वह चुनाव जीत रही है।

मनीष
file photo

उन्होंने ट्वीट किया, ‘बीजेपी ने 2009 का चुनाव हारने के बाद 5 साल ईवीएम पर रिसर्च कर महारत हासिल की और आज उसी रिसर्च और महारत के दम पर चुनाव(MCD) जीत रही है।’

अन्ना हजारे ने केजरीवाल पर बोला हमला

अन्ना
PHOTO- ANI

दिल्ली नगर-निगम चुनाव में आम आदमी पार्टी को मिली करारी हार के बाद सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने इसको लेकर आप पार्टी और अरविंद केजरीवाल पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी पर लोगों का भरोसा कम हुआ है। साथ ही कहा कि केजरीवाल ने जो कहा वो नहीं किया।

Also Read:  आपसी एकता और असहिष्णुता पर रिफत जावेद का फेसबुक लाइव

उन्होंने कहा कि पार्टी की हार के लिए मुझे दुख है। लेकिन कथनी और करनी में फर्क ने आम आदमी पार्टी को हराया। साथ ही अन्ना हजारे ने कहा कि केजरीवाल मेरे बताए हुए रास्ते पर नहीं चले, इसलिए करारी हार हुई। उन्होंने केजरीवाल पर सत्ता के लोभ का आरोप लगते हुए कहा कि कुर्सी मिलने पर केवल सत्ता ही दिखाई देती है।

AAP और कांग्रेस में इस्तीफों की झड़ी:-

दिलीप पांडे ने केजरीवाल को भेजा इस्तीफा

दिल्‍ली नगर निगम चुनावों में करारी शिकस्‍त के बाद आम आदमी पार्टी में इस्‍तीफों का दौर शुरू हो गया। शाम होते-होते दिलीप पांडेय ने भी अरविंद केजरीवाल को अपना इस्तीफा सौंप दिया। दिलीप पांडे ने बुधवार शाम ट्वीट करते हुए कहा कि मैंने दिल्ली आप संयोजक पद से इस्तीफा दे दिया है। इसकी जानकारी राष्ट्रीय संयोजक को देते हुए किसी और को यह जिम्मेदारी सौंपने को कहा है।

अलका लांबा ने भी इस्तीफा देने की पेशकश की

Alka Lamba

आम आदमी पार्टी की विधायक अलका लांबा ने अपने क्षेत्र में आप प्रत्याशियों की हार की जिम्मेदारी लेते हुए विधायक और पार्टी के सभी पदों से इस्तीफा देने की पेशकश की है। अलका ने ट्वीट किया, ”मैं अपने निर्वाचन क्षेत्र के सभी तीन वार्डों में पार्टी प्रत्याशियों की हार की निजी जिम्मेदारी लेती हूं और पार्टी के सभी पदों और विधायक के तौर पर भी इस्तीफे की पेशकश करती हूं।”

कपिल मिश्रा का AAP पर निशाना

Also Read:  उमर अब्दुल्ला पर कांग्रेस का पलटवार, कहा- 'अपने लोगों पर ध्यान दो'

दिल्ली सरकार में मंत्री कपिल मिश्रा ने कहा कि चुनाव नतीजों की जिम्मेदारी केवल EVM पर नहीं डाली जा सकती। उन्होंने कहा कि स्थिति चिंताजनक है और हमें सोचने की जरूरत है। दिल्ली में बीजेपी की लहर है इसे नकारा नहीं जा सकता।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पीसी चाको और प्रदेश अध्यक्ष अजय माकन का इस्तीफा

दिल्ली नगर निगम (MCD) चुनावों में करारी हार के बाद कांग्रेस पार्टी में इस्तीफों की झड़ी लग गई है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और दिल्‍ली कांग्रेस प्रभारी पीसी चाको ने भी अपने इस्तीफे की पेशकश की है। चाको ने दिल्ली नगर निगम चुनावों में पार्टी के खराब प्रदर्शन के बाद कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी को अपना इस्तीफा भेज दिया है।

इससे पहले कांग्रेस की हार के बाद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। माकन ने इस्तीफा देते हुए कहा है कि वो अगले एक साल तक कोई पद नहीं लेंगे और एक साधारण कार्यकर्ता की तरह काम करते रहेंगे।

शीला दीक्षित ने साधा निशाना

वहीं, पूर्व सीएम शीला दीक्षित ने कांग्रेस की हार के लिए स्थानीय नेतृत्व की संलिप्तता की कमी को जिम्मेदार बताते हुए आरोप लगाया कि अजय माकन के नेतृत्व में दिल्ली कांग्रेस लोगों तक पहुंच नहीं सकी।

उन्होंने अजय माकन को हार के लिए जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि दिल्ली में कांग्रेस का नेतृत्व उन्हीं(अजय माकन) के हाथों में था, इसलिए हार के लिए भी वही जिम्मेदार हैं।

योगेंद्र यादव ने BJP को दी बधाई

स्वराज इंडिया के अध्यक्ष योगेंद्र यादव ने बीजेपी को बधाई देते हुए कहा कि जनता के जनादेश का सम्मान करते हैं, मैं स्वराज इंडिया की तरफ से बीजेपी को बधाई देता हूं। यह हमारा पहला चुनाव था, हम यह सोच कर नहीं आए थे कि बहुत ज्यादा सीटें जीतेंगे। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र को खतरा है, लेकिन आम आदमी पार्टी के नेताओं के बयानों की वजह से है। EVM पर सवाल बार बार उठाना सिर्फ बहानेबाजी जैसा लगता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here