‘मां को मिलनी चाहिए सबसे ज्यादा सैलरी’, मिस वर्ल्ड का खिताब जीतने वाली मानुषी छिल्लर के इस जवाब ने जीत लिया सबका दिल

0

17 साल बाद भारतीय सुंदरता ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर परचम लहराया है। चीन के सान्या शहर में शनिवार (18 नवंबर) रात मिस इंडिया मानुषी छिल्लर को इस साल का मिस वर्ल्ड घोषित किया गया। छिल्लर ने दुनिया के विभिन्न हिस्सों से 108 सुंदरियों को पछाड़ कर यह खिताब अपने नाम किया है। मानुषी हरियाणा के झज्जर जिले की रहने वाली हैं। पीएम मोदी ने ट्वीट कर लिखा, ‘भारत को आपकी उपलब्धि पर गर्व है।’

(AFP Photo)

17 वर्षों के बाद किसी भारतीय सुंदरी के सिर यह ताज सजा है। उनसे पहले 2000 में प्रियंका चोपड़ा मिस वर्ल्ड बनी थीं। इस प्रतियोगिता में मिस मेक्सिको आंद्रिया मेजा दूसरे व मिस इंग्लैंड स्टेफनी हिल तीसरे नंबर पर रहीं। मानुषी 67वीं व भारत की छठी मिस वर्ल्ड हैं। 2016 की मिस वर्ल्ड प्योटरे रिको की स्टेफनी डेल वाल्ले ने मानुषी को ताज पहनाया। मिस वर्ल्ड बनने से पहले मानुषी ने 2017 में मिस इंडिया का खिताब जीता था।

इस जवाब ने जीता सबका दिल

मानुषी से अंतिम सवाल ये पूछा गया था कि दुनिया में किस पेशे की सैलरी सबसे ज्यादा होनी चाहिए और क्यों? मानुषी ने इसका बेहद खूबसूरत सा जवाब दिया। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि मां सबसे ज्यादा सम्मान की हकदार है और जब आप वेतन की बात करते हैं तो यह सिर्फ नकदी नहीं है, बल्कि मेरा मानना है कि यह प्रेम और सम्मान है जो आप किसी को देते हैं। मेरी मां मेरी जिंदगी में सबसे बड़ी प्रेरणा रही हैं।’’

मानुषी ने कहा कि, ‘‘सभी मांएं अपने बच्चों के लिए बहुत कुछ त्याग करती हैं। इसलिए मुझे लगता है कि मां का काम सबसे अधिक वेतन का हकदार है।’’ मानुषी के इस जवाब ने सबका दिल जीत लिया। बता दें कि 21 साल की मेडिकल छात्र मानुषी ने मिस इंडिया प्रतियोगिता के लिए करियर का एक साल लगा दिया।हृदय रोग सर्जन बनना चाहती हैं मानुषी

मानुषी से पहले साल 2000 में प्रियंका चोपड़ा मिस वर्ल्ड बनीं थीं। वर्ष 1999 में यह खिताब भारतीय सुंदरी युक्ता मुखी के नाम हुआ था। वहीं साल 1997 में डायना हेडन और 1994 में ऐश्वर्या राय मिस वर्ल्ड बनीं थी। मिस वर्ल्ड बनने वाली पहली भारतीय सुंदरी रीटा फारिया हैं जिन्होंने 1966 में यह खिताब अपने नाम किया था। मिस वर्ल्ड की वेबसाइट पर मौजूद मानुषी के प्रोफाइल के अनुसार हृदय रोग सर्जन बनना चाहती हैं और ग्रामीण इलाकों में बहुत सारे गैर लाभकारी अस्पताल खोलना चाहती हैं।

वह प्रशिक्षित शास्त्रीय नृत्यांग्ना हैं। उनको खेल-कूद में काफी दिलचस्पी है। इसके अलावा स्केचिंग और पेटिंग भी उन्हें पसंद है। वेबसासइट पर निजी जिंदगी का उनका मकसद के बारे में लिखा गया है कि, ‘‘जब आप सपना देखना बंद कर देते हैं तो जीना बंद कर देते हैं और अपने सपनों में उड़ान भरने का हौसला खो देते हैं। खुद पर भरोसे की क्षमता आपकी जिंदगी को जीने लायक बनाती है।’’

सिर्फ बॉलीवुड ही मकसद नहीं

मिस वर्ल्ड का खिताब जीतने वालीं ऐश्वर्या राय, प्रियंका चोपड़ा और मिस यूनिवर्स सुष्मिता सेन की तरह बॉलीवुड में जाने के सवाल पर मानुषी ने इनकार नहीं किया। लेकिन उनका जवाब एकदम जुदा था। मानुषी ने कहा कि उनका मानना है कि मिस इंडिया या मिस वर्ल्ड बनकर आप कुछ भी कर सकते हैं, सिर्फ बॉलीवुड ही विकल्प नहीं है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here