दिल्ली में वकीलों का प्रदर्शन, रोहिणी कोर्ट की इमारत पर चढ़कर एक वकील ने की खुदकुशी की कोशिश, देखें वीडियो

0

तीस हजारी कोर्ट परिसर में दो नवंबर को पार्किंग को लेकर शुरू हुए विवाद के बाद हुई हिंसा की घटना के विरोध में दिल्ली की सभी जिला अदालतों में वकीलों का प्रदर्शन बुधवार को तीसरे दिन भी जारी रहा। इसी बीच, रोहिणी कोर्ट की इमारत पर चढ़कर एक वकील ने कथित तौर पर खुदकुशी करने की कोशिश की।

वकील

राजधानी की सभी जिला अदालतों के बाहर वकील दिल्ली पुलिस के खिलाफ नारेबाजी और प्रदर्शन कर रहे हैं। वकीलों ने सुबह रोहिणी कोर्ट में लोगों को जाने से रोक दिया और जमकर नारेबाजी की। प्रदर्शन कर रहे वकील इंसाफ की मांग कर रहे हैं। रोहिणी कोर्ट के अलावा साकेत और पटियाला हाउस कोर्ट में भी प्रदर्शन जारी है। साकेत कोर्ट में वकीलों ने कोर्ट के सभी दरवाजे बंद कर दिए हैं और कामकाज ठप है। बार काउंसिल ऑफ दिल्ली के मना करने के बाद भी वकीलों की हड़ताल जारी है।

गौरतलब है कि दो नवंबर की घटना के बाद एक तरफ जहां पुलिस वकीलों के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे थे वहीं दूसरी तरफ वकील भी पुलिस के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। पुलिस और वकीलों के बीच टकराव के बाद बने गतिरोध पर चर्चा करने के लिए पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक और पुलिस के कई वरिष्ठ अधिकारी उपराज्यपाल अनिल बैजल के साथ उनके आवास पर बैठक कर रहे हैं।

तीस हजारी अदालत परिसर और उसके बाद विभिन्न अदालतों के बाहर पुलिसकर्मियों के साथ मारपीट की घटना से गुस्साये पुलिसकर्मियों ने कल करीब 11 घंटे बाद अपना विरोध-प्रदर्शन खत्म कर दिया। आला अधिकारियों से मिले आश्वासन के बाद पुलिसकर्मियों ने धरना खत्म करने का फैसला किया था। पुलिसकर्मियों ने वकीलों के व्यवहार के खिलाफ मंगलवार को मुख्यालय के बाहर प्रदर्शन कर इस मामले में कार्रवाई की मांग की थी। दिल्ली पुलिस के इतिहास में पहली बार पुलिस अधिकारी और कर्मचारी धरना-प्रदर्शन पर बैठे।

गौरतलब है कि, तीस हजारी कोर्ट परिसर में शनिवार को पुलिस कर्मियों और वकीलों के बीच पार्किंग को लेकर कहासुनी हो गई थी, जोकि बाद में बड़ी हिंसा में बदल गई। इस दौरान कम से कम 20 पुलिसकर्मी और कई वकील घायल हो गए थे। कई वाहनों में तोड़फोड़ की गई या उनमें आग लगा दी गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here