कुमार विश्वास के बयान से दुख हुआ: मनीष सिसोदिया

0

दिल्ली नगर निगम चुनाव में करारी हार के बाद आम आदमी पार्टी(आप) में जारी घमासान थमने का नाम नहीं ले रहा है। इस बीच पार्टी के वरिष्ठ नेता कुमार विश्वास के बयान पर पलटवार करते हुए दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने मंगलवार(2 अप्रैल) को प्रेस कॉन्फेंस कर कहा कि कुमार विश्वास के बयान से बहुत दुख हुआ है।

सिसोदिया ने कहा कुमार टीवी पर बयान दे रहे हैं, उन्हें PAC में आकर बोलना चाहिए, ऐसा करने से कार्यकर्ताओं का मनोबल टूटता है। वह (कुमार विश्वास) PAC में बात नहीं करते। टीवी पर बयानबाजी करने से किसे फायदा होता है यह सबको मालूम है।

सिसोदिया ने कहा कि यह न तो मेरी पार्टी(आम आदमी पार्टी) है और न ही अरविंद केजरीवाल जी की, यह लाखों कार्यकर्ताओं की पार्टी है। उन्होंने कहा कि हम उनसे (कुमार विश्वास से) मिलने गए थे, फिर भी वह मीटिंग के लिए नहीं आए। वह सिर्फ टीवी पर बयानबाजी करते हैं। जबकि, उन्हें पार्टी के अंदर बात रखनी चाहिए।

बता दें कि इससे पहले कुमार विश्वास ने प्रेस कॉन्फेंस कर कहा कि विधायक अमानतुल्ला खान सिर्फ एक मुखौटा हैं, उनके पीछे से कोई और बोल रहा है। उन्‍होंने कहा कि मसला देश और सेना का होगा तो मैं बोलूंगा। अपने वीडियो के लिए किसी से काफी नहीं मांगूगा।

साथ ही कुमार ने कहा कि जीवन में हमें न कभी मुख्यमंत्री बनना है और न ही मुझे पार्टी अध्यक्ष बनना है। मैं अपनी आवाज बंद नहीं करूंगा। उन्होंने कहा कि सैनिकों की ज्यादती पर जारी किया गया मेरा वीडियो कुमार विश्वास की आवाज नहीं थी, वह देश की आवाज थी।

कुमार ने कहा कि अमानतुल्ला ने मुझ पर आरोप लगाए हैं, लेकिन वह तो सिर्फ एक मुखौटा हैं उनके पीछे कोई और बोल रहा है। प्रेस कॉन्फेंस के दौरान कुमार विश्वास भावुक भी नजर आए। उन्होंने कहा कि आज रात तक सोचकर मैं अपना फैसला बताऊंगा। उन्होंने कहा कि मैं जो भी फैसला लूंगा वो जल्द ही आप सबके सामने होगा।

बता दें कि कुमार विश्वास ने पार्टी और पार्टी की टॉप लीडरशिप के काम करने के तरीके और फैसले पर सवाल उठाए थे, जिसके बाद पार्टी विधायक और PAC सदस्य अमानतुल्लाह खान ने कुमार विश्वास पर पार्टी तोड़ने और हड़पने के आरोप लगाते हुए विश्वास पर बीजेपी के इशारे पर काम करने का आरोप लगाया था।

हालांकि, सोमवार को अमानतुल्‍लाह खान ने पार्टी की पॉलिटिकल अफेयर्स कमिटी (पीएसी) से इस्‍तीफा दे दिया था। इस मामले में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर विश्वास को अपना भाई बताया था। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि कुमार मेरा छोटा भाई है। कुछ लोग हमारे बीच दरार दिखा रहे हैं, ऐसे लोग पार्टी के दुश्मन हैं। वो बाज आयें। हमें कोई अलग नहीं कर सकता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here