भीड़ ने बच्चा चोर समझकर 6 लोगों को पीट-पीटकर मार डाला, पुलिस पर भी किया हमला

0

झारखंड के जमशेदपुर में ग्रामीणों की भीड़ ने बच्चों का अपहरण करने के शक में गुरुवार (18 मई) को 3 पशु व्यापारियों को पीट-पीटकर मार डाला है और उनके वाहन में आग लगा दी। इतना ही नहीं घटना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस के साथ भीड़ ने मारपीट की और उन पर पथराव भी किया, इस मामले पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ जांच शुरू कर दी है।

photo- NDTV

जनसत्ता कि ख़बर के मुताबिक, मामला सरायकेला के राजनगर इलाके का है। यहां गुरुवार (18 मई) को सुबह के करीब चार बजे शेख हालिम, शेख सज्जू, शेख सिराज और शेख नईम दो गाड़ियों से राजनगर इलाके से गुजर रहे थे। उस इलाके में बच्चा चोरी की कई वारदातें हो रही थीं तो लोगों को लगा कि ये लोग बच्चा चुराने वाला गैंग है।

हेज़ल गांव के पास कुछ लोगों ने गाड़ियों को रोकने की कोशिश की लेकिन वे नहीं रुकी। इसके बाद उग्र भीड़ ने गाड़ी का पीछा कर उसे जबरदस्ती रुकवा लिया और गाड़ी रुकते ही उनपर हमला कर दिया जिसमे तीन पशु व्यापारियों की मौत हो गई।

वहीं एनडीटीवी कि ख़बर के मुताबिक, पूर्वी सिंहभूम जिले में तीन व्यक्तियों – विकास कुमार वर्मा, गौतम कुमार वर्मा तथा गणगेश गुप्ता को घसीटकर घर से बाहर निकाला गया और इतनी बुरी तरह पीटा गया कि उनकी मौत हो गई। इस दौरान एक महिला पर भी बहुत बेरहमी से हमला किया गया, क्योंकि गांव वालों का आरोप था कि ये लोग बच्चों की चोरी किया करते थे।

इसके बाद एक स्थानीय निवासी ने इस मामले की शिकायत पुलिस को दी। दोनों ही मामलों में जब पुलिस घटनास्थल पर पहुंची तो भीड़ ने पुलिसवालों पर ही हमला कर दिया जिससे कुछ पुलिसकर्मी ज़ख्मी भी हो गए है। पुलिस के अनुसार, इस इलाके में पांच-छह गांवों मेंबच्चा चोरी को लेकर अफवाह काफी दिनों से चल रहा है, ये हत्या बच्चा चोर गैंग के सदस्य होने की आशंका में की गई है।

ख़बरों के अनुसार, वारदात को अंजाम देने वाले कुछ लोगों की पहचान हो गई है और पुलिस इस मामले की जांच कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here