जेटली मानहानि केस: हाईकोर्ट ने केजरीवाल से पूछा- क्या आपने अदालत में झूठ बोला?

0

केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बुधवार(23 अगस्त) को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ हाई कोर्ट में झूठा हलफनामा दाखिल करने का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की है। इस सिलसिले में एक याचिका दाखिल की है। इस याचिका पर हाई कोर्ट ने इस पर केजरीवाल को नोटिस जारी पूछा है कि क्या आपने कोर्ट में झूठ बोला था? कोर्ट ने इस संबंध में केजरीवाल को नोटिस जारी कर चार सप्ताह में उनसे जवाब मांगा है।

फोटो: TOI

दरअसल जेटली द्वारा दायर याचिका के मुताबिक, दिल्ली हाईकोर्ट में दायर हलफनामे में केजरीवाल ने झूठ बोला है कि उन्होंने पहले से चल रहे मानहानि के मामले में अपने वकील राम जेठमलानी को केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली के खिलाफ अपमानजन शब्दों का इस्तेमाल करने के लिए नहीं कहा था।

जेटली की ओर से वरिष्ठ वकील राजीव नायर और संदीप सेठी ने अदालत ने अनुरोध किया कि उन्हें गलत बयानी और हलफमाने में झूठी जानकारी देने के लिए केजरीवाल के खिलाफ आपराधिक शिकायत दर्ज करने की अनुमति दी जाए। न्यायमूर्ति मनमोहन ने इस संबंध में केजरीवाल को नोटिस जारी कर चार सप्ताह में उनसे जवाब मांगा है। उन्होंने मामले की अगली सुनवाई 11 दिसंबर के लिए निर्धारित की है।

दरअसल, इस मामले की सुनवाई के दौरान 17 मई 2017 को केजरीवाल की पैरवी करते हुए राम जेठमलानी ने अरुण जेटली के लिए CROOK (बदमाश) शब्द का प्रयोग किया था। इसपर जेटली ने पूछा था ‘क्या सीएम केजरीवाल ने आपको मेरे लिए ऐसे शब्द का प्रयोग करने को कहा है?’

इसके बाद केजरीवाल ने हाई कोर्ट में दिए हलफनामे में कहा है कि उन्होंने अपने खिलाफ दायर मानहानि के मामले में जेटली के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणियों का इस्तेमाल करने का जेठमलानी को निर्देश नहीं दिया था। हालांकि, जेठमलानी ने केजरीवाल का केस छोड़ने के बाद आरोप लगाया था कि वो केजरीवाल के निर्देश पर जेटली के खिलाफ अभद्र भाषा इस्तेमाल करते थे।

क्या है मामला?

गौरतलब है कि जेटली ने दिसंबर, 2015 को केजरीवाल के अलावा आम आदमी पार्टी के नेताओं कुमार विश्वास, आशुतोष, संजय सिंह, राघव चड्ढा और दीपक वाजपेयी के खिलाफ डीडीसीए भ्रष्टाचार मामले में कथित तौर पर झूठे और अपमानजनक बयान देने के लिए 10 करोड़ रुपये के मानहानि का मुकदमा किया है।

इस मामले की सुनवाई के दौरान जेठमलानी और जेटली के बीच तीखी बहस हुई थी। इस दौरान जेटली के लिए ‘धोखेबाज’ शब्द का इस्तेमाल करने के चलते जेटली ने केजरीवाल के खिलाफ 10 करोड़ रुपये का एक और मानहानि का नया दीवानी मुकदमा हाई कोर्ट में दायर किया है।

अब कुल मिलाकर मानहानि की रकम 20 करोड़ रुपए हो चुकी है। इन सभी लोगों ने जेटली पर दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) में वित्तीय अनियमितताओं का आरोप लगाया था। हालांकि, जेटली ने इन आरोपों से इनकार किया है। बता दें कि वर्ष 2000 से 2013 तक जेटली डीडीसीए के अध्यक्ष थे।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here