महिला सशक्तिकरण में शानदार पहल के लिए JSPL को मिला ASSOCHAM अवार्ड

0

उद्योगपति नवीन जिंदल के नेतृत्व वाली कंपनी जिंदल स्टील एंड पावर लिमिटेड (जेएसपीएल) को महिला सशक्तिकरण की दिशा में शानदार पहल के लिए एसोसिएटेड चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री ऑफ इंडिया (एसोचैम) का वूमन एचीवर्स अवार्ड प्रदान किया गया है। केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने यह सम्मान कंपनी के प्रबंध निदेशक वीआर शर्मा को नई दिल्ली में आयोजित वूमन लीडरशिप एंड एम्पावरमेंट सम्मिट में दिया गया।

महिला

जेएसपीएल में सीएसआर का दायित्व निभा रहे जेएसपीएल फाउंडेशन की अध्यक्ष शालू जिंदल ने एसोचैम वूमन एचीवर्स अवार्ड के लिए ज्यूरी के प्रति आभार प्रकट करते हुए कहा कि विभिन्न समुदायों की स्थाई और समावेशी समृद्धि के लिए चलाई जा रही उनकी बहु-आयामी विकास परियोजनाओं में महिला सशक्तिकरण को सर्वोच्च प्राथमिकता दी गई है। एसौचैम के प्रतिष्ठित सम्मान से राष्ट्र निर्माण एवं सशक्तिकरण के मिशन के प्रति जेएसपीएल फाउंडेशन का दायित्व और बढ़ गया है।

जेएसपीएल फाउंडेशन सीएसआर के तहत स्वास्थ्य, आजीविका, शिक्षा, खेल और जीवन से संबंधित अन्य क्षेत्रों में अपना योगदान कर रहा है जिससे अभी तक ओडिशा, छत्तीसगढ़, झारखंड और हरियाणा की लगभग 9 लाख महिलाएं लाभान्वित और प्रोत्साहित हुई हैं।

जेएसपीएल फाउंडेशन आजीविका के लिए 1200 से अधिक लघु उद्यम परियोजनाओं, मातृत्व एवं शिशु कल्याण के लिए वात्सल्य, किशोरियों के स्वास्थ्य के लिए किशोरी एक्सप्रेस, कौशल विकास के लिए ओपी जिंदल कम्युनिटी कॉलेज, खेल प्रशिक्षण और अन्य परियोजनाओं के माध्यम से योगदान कर महिलाओं और किशोरियों के जीवन में अनोखे और उत्साहजनक बदलाव लाने का कार्य कुशलता पूर्वक कर रहा है। इनमें किशोरी एक्सप्रेस परियोजना को राष्ट्रीय स्तर पर सराहना मिली है।

ओडिशा में इसकी शानदार सफलता को देखते हुए केंद्र सरकार के अनुरोध पर यह परियोजना हरियाणा में भी लागू की गई है। इसके तहत 60 हजार से अधिक किशोरियों को लाभान्वित किया गया है। इस कार्यक्रम में किशोरियों को एनीमिया से बचाने के उपाय किए जाते हैं। इसी तरह हेल्थ कैंप और टेलीमेडिसीन केंद्रों के माध्यम से पांच लाख से अधिक महिलाओं की स्वास्थ्य सेवा की जा रही है। 30 हजार से अधिक महिलाओं को कौशल विकास का प्रशिक्षण प्रदान कर उन्हें अपने पैरों पर खड़े होने के लिए प्रोत्साहित किया गया है।

फाउंडेशन ने 12 हजार से अधिक बालिकाओं के लिए उत्तम शिक्षा की भी व्यवस्था की है और 10 लाख से अधिक महिलाओं के लिए पेयजल का इंतजाम किया है। उच्च शिक्षा के लिए 4500 छात्राओं को वजीफा दिया गया है।

विदित हो कि एसोचैम देश की अग्रणी व्यापारिक और औद्योगिक संस्था है जिसकी स्थापना 1920 में की गई थी। जेएसपीएल को मिला एसोचैम वूमन एचीवर्स अवार्ड्स उन महिलाओं को सम्मान है, जिन्होंने अपने-अपने योगदान से अलग-अलग क्षेत्रों में आम जन-मानस को विकास की नई रोशनी दिखाई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here