ऑफिस पर हमले के बाद भड़के शशि थरूर, बोले- क्‍या ‘हिंदुत्‍व में तालिबान’ की शुरुआत कर रही है बीजेपी?

0

‘हिंदू पाकिस्तान’ वाले बयान को लेकर जारी हंगामे के बीच कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और केरल के तिरूवंतपुरम से सांसद शशि थरूर ने एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) पर हमला बोला है।वरिष्‍ठ नेता शशि थरूर ने मंगलवार को तिरूवनंतपुरम के एक कार्यक्रम में कहा कि बीजेपी के लोग कह रहे थे कि मैं पाकिस्‍तान चला जाऊं लेकिन उन्‍हें यह तय करने अधिकार किसने दे दिया कि मैं उनकी तरह से हिंदू नहीं हूं। क्‍या मुझे देश में रहने का अधिकार नहीं है? क्‍या वे लोग हिंदुत्‍व के अंदर तालिबान की शुरुआत कर रहे हैं?

शशि थरूर
FILE PHOTO: BCCL

समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक, हिंदू संगठनों द्वारा ऑफिस में किए गए हमले पर शशि थरूर ने कहा कि जब उन लोगों ने ऑफिस पर हमला किया तो नारा लगाते हुए कहा, ‘मुझे कहा कि मैं पाकिस्तान जाऊं। उन्हें किसने ये अधिकार दिया कि वह यह तय करें कि मैं उनकी तरह हिंदू नहीं हूं, वह कौन लोग है जो यह कह रहे हैं कि मुझे इस देश में रुकने का अधिकार नहीं है। क्या उनलोगों ने हिंदूत्व के नाम पर तालिबानी हरकतें शुरू कर दी हैं।’

बता दें, सोमवार को थरूर के निर्वाचन क्षेत्र तिरुवनंतपुरम स्थित उनके दफ्तर में कुछ हिंदूत्व उपद्रवियों ने जमकर तोड़फोड़ की। यही नहीं, उनके कार्यालय की दीवारों पर काली स्याही भी फेंका। कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया है कि इस हमले के पीछे बीजेपी युवा मोर्चा के सदस्यों का हाथ है।

रिपोर्ट के मुताबिक शशि थरूर ने कहा, ‘लोग अपनी समस्याएं लेकर आते हैं लेकिन आप उन्हें डराकर दूर भगा देते हैं। क्या यही हम अपने देश में चाहते हैं? यह बात मैं एक सांसद के नाते नहीं बल्कि एक आम नागरिक होने के रूप में पूछ रहा हूं। जहां तक मैं जानता हूं कि यह हिंदुत्व नहीं है।’

बता दें कि हाल ही में शशि थरूर ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा था कि अगर बीजेपी 2019 के लोकसभा चुनाव में जीतती है, तो इससे देश ‘हिंदू पाकिस्तान’ बन जाएगा। थरूर ने तिरुवनंतपुरम में कहा कि बीजेपी अगर 2019 में जीतती है, तो वह नया संविधान लिखेगी, जिससे यह देश पाकिस्तान बनने की राह पर अग्रसर होगा जहां अल्पसंख्यकों के अधिकारों का कोई सम्मान नहीं किया जाता है।

शशि थरूर ने कहा, “अगर बीजेपी दोबारा लोकसभा चुनाव जीतती है तो हमें लगता है कि हमारा लोकतांत्रिक संविधान नहीं बचेगा। वो संविधान के बुनियादी सिद्धांतों को तहस-नहस करके एक नया संविधान लिखेंगे। उनका नया संविधान ‘हिंदू राष्ट्र’ के सिद्धांतों पर आधारित होगा। अल्पसंख्यकों को मिलने वाली बराबरी खत्म कर दी जाएगी और भारत ‘हिंदू पाकिस्तान’ बन जाएगा।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here