गुजरात चुनाव: हार्दिक पटेल का गंभीर आरोप, कहा- ‘5000 EVM हैक करने की तैयारी में हैं 140 इंजीनियर’

0

गुजरात विधानसभा चुनावों का परिणाम कल यानि 18 दिसंबर को आना है। इस बीच पाटीदार आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल ने बिना नाम लिए राज्य में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर गंभीर आरोप लगाए हैं। हार्दिक पटेल ने दावा किया है कि 140 सॉफ्टवेयर इंजीनियर की मदद से 5000 इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) को हैक करने की तैयारी है।पिछले कुछ चुनावों में मशीनों में गड़बड़ी के चलते EVM की विश्वसनीयता को लेकर उठ रहे सवालों के बीच शनिवार देर रात हार्दिक ने ट्वीट कर कहा, ‘अहमदाबाद की एक कंपनी के द्वारा 140 सॉफ्टवेयर इंजिनियर के हाथों से 5,000 ईवीएम मशीन को सोर्स कोर्ड से हैकिंग करने की तैयारी हैं।’

बता दें कि हार्दिक पटेल और विपक्षी पार्टियों की ओर से इससे पहले भी ईवीएम से छेड़छाड़ की बात कही गई थी। हालांकि चुनाव आयोग ने ऐसी सभी बातों को निराधार करार दिया है।

इसके बाद रविवार को हार्दिक ने दो और ट्वीट किए। एक में कहा है, ‘विसनगर, पाटन, राधनपुर, टंकारा, ऊंजा, वाव, जैतपुर, राजकोट-68, 69, 70, लाठी-बाबरा, छोटा उदयपुर, संतरामपुर, सांवली, मांगरोल, मोरवाहड़फ, नादोद, राजपीपला, डभोई और ख़ास करके पटेल और आदिवासी इलाक़े की विधानसभा क्षेत्र में EVM सोर्स कोर्ड से हैकिंग करने का प्रयास हुआ है।’

एक और ट्वीट में हार्दिक पटेल ने लिखा, ‘मेरी बातों पर सिर्फ हंसी आएगी, लेकिन विचार कोई नहीं करेगा। भगवान के द्वारा बनाए गए हमारे शरीर में छेड़छाड़ हो सकती है तो मानव के द्वारा बनाई गई ईवीएम में क्यों छेड़छाड़ नहीं हो सकती!! एटीएम हैक हो सकते है तो ईवीएम क्यों नहीं!!!’

बता दें कि इससे पहले भी शनिवार को हार्दिक ने कहा था कि बीजेपी शनिवार-रविवार की रात को ईवीएम में गड़बड़ी करने जा रही है। उन्‍होंने ट्वीट किया, ”शनिवार और रविवार की रात को EVM में बड़ी गड़बड़ी करने जा रही है भाजपा। चुनाव हार रही है भाजपा, EVM में गड़बड़ी नहीं होंगी तो 82 सीट भाजपा को मिल रही है।”

यही नहीं हार्दिक ने 15 दिसंबर को एक और ट्वीट किया और इसके जरिए दावा किया कि बीजेपी ईवीएम में गड़बड़ी कर गुजरात को जीतेगी, लेकिन हिमाचल का चुनाव हार जाएगी ताकि कोई सवाल न उठाए। हार्दिक ने ट्वीट में लिखा, ‘गुजरात में बीजेपी की हार का मतलब है उसका पतन। ईवीएम में गड़बड़ी करके बीजेपी गुजरात चुनाव जीतेगी और हिमाचल प्रदेश का चुनाव हारेगी ताकि कोई प्रश्न न करे।’

बता दें कि गुजरात चुनावों के बीच कांग्रेस ने भी ईवीएम की विश्वसनीयता को लेकर सवाल खड़े किए थे। एग्जिट पोल के नतीजों के बाद कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट का रुख किया था। कांग्रेस ने याचिका दाखिल कर मांग की थी कि 18 दिसंबर को मतगणना के दौरान कम से कम 25 फीसदी VVPAT पर्चियों को ईवीएम से क्रॉस वेरिफाइ किया जाए। लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने मतगणना में दखल से इनकार करते हुए याचिका खारिज कर दी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here