गुजरात की 19 वर्षीय निर्भया के साथ हुए अमानवीय बलात्कार के खिलाफ सोशल मीडिया पर मांगा जा रहा है इंसाफ

0

गुजरात की निर्भया के लिए सोशल मीडिया पर इंसाफ मांगा जा रहा है। बलात्कार की घटनाएं तो देश में रोज कहीं ना कहीं होती है लेकिन जब नरपिशाच अमानवीय तरीके से इस जघन्य अपराध को अंजाम देते है तब नाम आता है निर्भया का। गुजरात के फतेहपुरा तहसील में 19 वर्षीय नवयुवती के साथ इसी तरह से बलात्कार किया गया। जिसके लिए #Justice4GujaratKiNirbhaya हैशटेग चलाकर सोशल मीडिया पर इंसाफ मांगा जा रहा है।

निर्भयाफतेपुरा तहसील के एक गांव में एक शख्स ने सरपंच पद के लिए फार्म भरा, तो 8 लोगों ने उसके घर पर हमला कर दिया। इस दौरान फार्म भरने वाले की बेटी वहां से भागने लगी तो हमलावरों में से एक व्यक्ति ने उसके साथ बलात्कार  किया। यही नहीं, उसके बाद लड़की को पेशाब से नहला दिया गया और उसके मुंह और शरीर पर पेशाब करते हुए दबंगों ने जरा भी झिझक नहीं दिखाई।

मीडिया रिपोट्स के मुताबिक, फतेपुरा तहसील में रहने वाले एक व्यक्ति ने सरपंच पद के लिए फार्म भरा। इस पर गांव की पंचायत अध्यक्ष के पति नरेंद्र भाई डामोर, दिलीप भाई वगेला, गलुभाई, अरविंद भाई, कांतिलाल डामोर, भुरे सिंह भाई डामोर और मुकेश भाई घातक हथियार लेकर फार्म भरने वाले के घर पहुंच गए।

हमारे खिलाफ फार्म क्यों भरा, इस वाक्य के साथ उन्होंने उसके घर पर पत्थरबाजी शुरू कर दी। इस दौरान फार्म भरने वाले की 19 वर्षीय बेटी बचने के लिए वहां से भागी, तो एक पत्थर उसे भी लगा, जिससे वह वहीं गिर पड़ी। पहले भुरसिंह डामोर ने लकड़ी के प्रहार से युवती को घायल कर दिया।

उसके बाद अरविंद ने उससे गाली-गलौच करते हुए उसके बाल पकड़कर उसे खूब मारा। इसके बाद अन्य लोगों के साथ नरेंद्र डामोर भी वहां पहुंच गया। उसने युवती से बलात्कार किया। उसके बाद बेतहाशा गालियां देते हुए युवती पर यूरीन कर दिया।

सुखसर के पीएसआई पी.एच.जाडेजा ने इस बारें में बताया कि घर में भी काफी तोड़फोड़ की गई है। युवती को दाहोद भेज दिया गया। युवती से बलात्कार के बाद एफआईआर दर्ज की गई। उसके बाद उसने दाहोद में मेडिकल जांच की इच्छा व्यक्त की। इससे उसे परिवार के साथ सरकारी अस्पताल भेज दिया गया। अभी तक मेडिकल रिपोर्ट नहीं मिली है।

इस घटना से युवती के गांव समेत पूरे तहसील में हड़कम्प मचा हुआ है। परिवार के साथ पुलिस स्टेशन पहुंची युवती ने हमलावरों और उसके साथ बलात्कार करने वाले के खिलाफ रिपोर्ट लिखवाई है। सुखसर पुलिस ने अपराध दर्ज कर लिया गया है। इस घटना के दो सप्ताह से अधिक बीत जाने पर भी अभी तक गुजरात की इस निर्भया को इंसाफ नहीं मिला है इसलिए सोशल मीडिया पर #Justice4GujaratKiNirbhaya हैशटेग चलाकर इंसाफ मांगा जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here