खुलने से पहले ही ‘जियो इंस्टीट्यूट’ को ‘‘उत्कृष्ट संस्थान’’ का दर्जा दिए जाने पर बोले केजरीवाल- ‘अंबानी की जेब में है मोदी सरकार’

0

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने जियो इंस्टीट्यूट को ‘‘उत्कृष्ट संस्थान’’ का दर्जा दिए जाने पर बुधवार (11 जुलाई) को केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि यह सरकार ‘‘अंबानी की जेब’’ में है। बता दें कि मानव संसाधन विकास (एचआरडी) मंत्रालय की ओर से जारी छह उत्कृष्ट संस्थानों सूची में रिलायंस फाउंडेशन के जियो इंस्टीट्यूट को शामिल करने के फैसले पर सोशल मीडिया पर आम लोगों द्वारा सवाल उठाए जा रहे हैं।

मोदी जी ख़ुद सैनिकों

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के पूर्व नेता यशवंत सिन्हा की ओर से इस मुद्दे पर किए गए ट्वीट के जवाब में केजरीवाल ने ट्वीट किया, ‘‘इससे पहले कांग्रेस सरकार अंबानी की जेब में थी, अब मोदी सरकार अंबानी की जेब में है। बदला क्या है?’’ सिन्हा ने एक ट्वीट में कहा था, ‘‘जियो इंस्टीट्यूट की अभी स्थापना भी नहीं हुई। यह वजूद में नहीं है। फिर भी सरकार ने इसे उत्कृष्ट का दर्जा दे दिया। यह एम. अंबानी होने की अहमियत है।’’

बता दें कि मोदी सरकार ने सार्वजनिक क्षेत्र में आईआईटी- दिल्ली, आईआईटी- बंबई और बेंगलूर स्थित भारतीय विज्ञान संस्थान जबकि निजी क्षेत्र में मणिपाल उच्च शिक्षा अकादमी (माहे), बिट्स पिलानी और जियो इंस्टीट्यूट को उत्कृष्ट संस्थान का दर्जा दिया है। अभी स्थापित भी नहीं हुए जियो इंस्टीट्यूट को उत्कृष्ट संस्थान का दर्जा दिए जाने के सरकार के कदम की विभिन्न वर्गों में आलोचना हुई है। कई लोगों ने चयन प्रक्रिया और इसके पीछे की मंशा पर सवाल उठाए हैं। हालांकि केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने कल साफ किया था कि यह दर्जा शर्तों के साथ दिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here