CAA Protest: अज्ञात बदमाशों ने जामिया विश्वविद्यालय के बाहर की गोलीबारी, चश्‍मदीदों का दावा- स्‍कूटी पर सवार थे हमलावर

0

जामिया मिल्लिया इस्लामिया विश्वविद्यालय के बाहर गेट संख्या पांच पर रविवार रात दो अज्ञात हमलावरों ने कथित तौर पर गोलीबारी की। घटना में कोई हताहत नहीं हुआ। कथित तौर पर गोलियां चलाने वाले दो लोग एक स्कूटी में सवार थे। इस गोलीबारी की घटना के तुरंत बाद, गुस्साए छात्र जामिया नगर पुलिस स्टेशन के बाहर जमा हो गए। वे अपनी शिकायत दर्ज होने के बाद विश्वविद्यालय के पास धरना स्थल पर लौट आए। इस गोलीबारी करने की घटना में पुलिस ने मामला दर्ज कर मामले की जांच शुरु कर दी है।

जामिया

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) के खिलाफ प्रदर्शन करने के लिए बनाए गए विश्वविद्यालय के छात्रों और पूर्व छात्रों के समूह ‘जामिया समन्वय समिति’ (जेसीसी) के एक बयान के अनुसार हमलावर लाल रंग की स्कूटी पर आए थे। बयान में कहा गया है कि एक बदमाश ने लाल रंग की जैकेट पहन रखी थी।

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि भारतीय दंड संहिता और सशस्त्र अधिनियम की प्रासंगिक धाराओं के तहत हत्या की कोशिश का एक मामला दर्ज किया गया है और जांच जारी है। बता दें कि, जामिया नगर में इस एक ही सप्ताह में गोलीबारी की यह तीसरी घटना है।

इस बीच, ओखला से कांग्रेस के पूर्व विधायक आसिम मोहम्मद खान ने बताया कि हालिया घटना रात करीब साढ़े 11 बजे हुई। एक छात्र ने कहा, ‘हमने गोली की आवाज सुनी, जब हम बाहर आए तो दो लोगों को स्कूटी पर जाते देखा।’ उन्होंने कहा, ‘हमने वाहन का नंबर तुरन्त लिख लिया और पुलिस को फोन किया।’

गौरतलब है कि, शाहीन बाग इलाके में CAA-NRC के खिलाफ चल रहे प्रदर्शन के दौरान शनिवार को 25 वर्षीय एक युवक ने हवा में गोली चलाई थी। उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस की हिरासत में फायरिंग करने वाले शख्स ने कहा था, ‘हमारे देश में और किसी की नहीं चलेगी, सिर्फ हिंदुओं की चलेगी।’

बता दें कि, इससे पहले गुरुवार को ही नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के विरोध में जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय से राजघाट तक निकाले जा रहे मार्च में गुरुवार दोपहर एक शख्स ने गोली चला दी, जिसमें जामिया का एक छात्र घायल हो गया। घटना को लेकर दिल्ली पुलिस सबके निशाने पर थी, क्योंकि पुलिसकर्मियों की मौजूदगी में यह गोलीबारी हुई थी।

बता दें कि, दक्षिणी दिल्ली के शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) और नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजन्स (NRC) के खिलाफ सैकड़ों महिलाएं पिछले 15 दिसंबर से प्रदर्शन कर रही हैं। यहां करीब एक महीने से भी ज्यादा समय से प्रदर्शन चल रहा है। इस प्रदर्शन के चलते नोएडा को दिल्ली से जोड़ने वाली राह कालिंदी कुंज बंद पड़ा है। (इंपुट: भाषा के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here