#MeToo के लपेटे में आए वरिष्ठ पत्रकार विनोद दुआ, फिल्ममेकर निष्ठा जैन ने लगाया यौन शोषण का आरोप

0

देश भर में चल रहे ‘मी टू’ अभियान के तहत हर रोज चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं। महिलाओं के इस अभियान का बड़े पैमाने पर समर्थन भी मिल रहा है। इस ‘मी टू’ मुहिम में हर रोज नए-नए नाम उभरकर सामने आने का सिलसिला थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। इस कड़ी में अब नया नाम वरिष्ठ पत्रकार विनोद दुआ का जुट गया है। जिन पर फिल्मकार निष्ठा जैन ने यौन शोषण का आरोप लगाया है।

विनोद दुआ
फाइल फोटो: वरिष्ठ पत्रकार विनोद दुआ

निष्ठा जैन ने एक फेसबुक पोस्ट लिखी है। उन्होंने इस पोस्ट में साल 1989 की घटनाओं का जिक्र किया है जिनमें विनोद दुआ पर आरोप लगाए गए हैं। निष्ठा जैन ने अपने फेसबुक पर एक लंबा पोस्ट लिखकर कहा है कि मुझे देखते ही विनोद दुआ ने एक बार घटिया और सेक्सुअल जोक मारा था। निष्ठा ने लिखा की विनोद दुआ आज यौन उत्पीड़न मामलों को समझाने के लिए कई प्रोग्राम करते हैं, लेकिन उन्हें पहले अपने अतीत में भी झांकना चाहिए।

निष्ठा जैन ने लिखा है कि जून 1989 में जब वह जॉब के इंटरव्यू के सिलसिले में विनोद दुआ से मिलने गई थीं तब उन्होंने सेक्शुअल जोक पास किया था। उन्होंने इंटरव्यू के दौरान अपनी सैलरी को लेकर एक्सपेक्टेशन बताई तो विनोद दुआ ने कथित तौर पर कहा कि तुम्हारी औकात क्या है? निष्ठा के मुताबिक उनकी आंखों में आंसू आ गए और उन्होंने घटना के बारे में भाई व दोस्तों को बताया।

निष्ठा आगे लिखती हैं कि बाद में एक जगह उनकी नौकरी लग गई और विनोद दुआ को इसकी जानकारी मिली। निष्ठा ने पोस्ट में लिखा, ‘एक रात मैं पार्किंग में आ रही थी, तो वह वहां थे। उन्होंने कहा कि वह मुझसे बात करना चाहते हैं और मुझे कार में आने को कहा। मुझे लगा कि वह अपने व्यवहार के लिए माफी मांगना चाहते थे।’ निष्ठा के मुताबिक विनोद दुआ ने कथित तौर पर वहां सेक्शुअली हैरस किया।

निष्ठा ने बताया कि किसी तरह वह वहां से निकलने में कामयाब रहीं। उनके मुताबिक इसके बाद अगली एक रात में विनोद दुआ फिर पार्किंग में आए तो वह उन्हें देखकर लौट गईं।

निष्ठा ने अपने पोस्ट में आगे लिखा है कि जब अक्षय कुमार के सेक्सिस्ट कमेंट पर विनोद दुआ भड़के थे, उस वक्त उन्हें ऐसा लगा कि विनोद शायद भूल गए हैं कि वो भी कम सेक्सिस्ट नहीं हैं, पोटेंशियल रेपिस्ट हैं। निष्ठा आखिरी में लिखती हैं, सॉरी मल्लिका, आपके पिता भी उनसे अलग नहीं है, उन जैसे ही हैं।

बता दें कि एक कार्यक्रम के दौरान अक्षय ने विनोद दुआ की बेटी मल्लिका पर टिप्पणी की थी। इसी को लेकर विनोद दुआ ने अक्षय कुमार को लताड़ा था और माफी की मांग की थी।

इन आरोपों के बाद मल्लिका ने भी अपनी बात रखी है। मल्लिका ने एक इंस्टाग्राम पोस्ट में लिखा है कि ये मेरी नहीं मेरे पिता की लड़ाई है और मैं उनकी लड़ाई में साथ खड़ी हूं। मल्लिका दुआ ने लिखा है, निष्ठा आपने जो आरोप लगाए हैं अगर वो सच हैं तो ये बर्दाश्त नहीं किए जा सकते, दुख देने वाले हैं। लेकिन इन सब में मेरा नाम खींचना मुझे बहुत बुरा लगा। साथ ही उन्होंने कहा कि वो #MeToo मूवमेंट के साथ खड़ी हैं।

बता दें कि विनोद दुआ वेब न्यूज पोर्टल ‘द वायर’ के कंसल्टिंग एडिटर हैं और ‘जन गण मन की बात’ नाम का एक वीडियो शो होस्ट करते हैं।

‘मी टू’ अभियान ने पकड़ा जोर

आपको बता दें कि भारत में जारी ‘मी टू’ अभियान (यौन उत्पीड़न के खिलाफ अभियान) तूल पकड़ता जा रहा है। कई अन्य महिलाएं अपने अनुभवों को सार्वजनिक तौर पर शेयर कर रही हैं। अभिनेत्री तनुश्री दत्ता द्वारा मशहूर अभिनेता नाना पाटेकर पर यौन शोषण का आरोप लगाए जाने के बाद अब अलग-अलग इंडस्ट्री की बाकी हस्तियों ने भी अपने साथ हुए यौन दुर्व्यवहार के खिलाफ आवाज उठानी शुरू कर दी है।

फिल्म इंडस्ट्री से ‘मी टू’ अभियान की शुरुआत होने के बाद इसकी चपेट में मीडिया जगत भी आ गया है और इसकी लपटें मोदी सरकार के एक मंत्री को अपने लपेटे में ले रही हैं। अपने समय के मशहूर संपादक व वर्तमान में केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री एम.जे. अकबर पर 9 वरिष्ठ महिला पत्रकारों ने यौन उत्पीड़न और अनुचित व्यवहार के आरोप लगाए हैं। इन महिलाओं ने उन पर तमाम मीडिया संस्थानों में संपादक रहते हुए यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगाया है।

नाना पाटेकर के बाद जहां डायरेक्टर विकास बहल, सिंगर कैलाश खेर, लेखक चेतन भगत, अभिनेता रजत कपूर, मॉडल जुल्फी सैयद, अभिनेता आलोक नाथ, हिंदुस्तान टाइम्स के संपादक प्रशांत झा, रघु दीक्षित, कमेंटेटर सुहेल सेठ, महिला कॉमिक स्टार अदिति मित्तल, बॉलीवुड के शोमैन सुभाई घई, फिल्ममेकर साजिद खान, लेखक-निर्देशक पीयूष मिश्रा और बीसीसीआई के सीईओ राहुल जौहरी भी ‘मी टू’ की चपेट में आए हैं, जिनपर यौन उत्पीड़न, बदसलूकी, गलत तरीके से छूने जैसे आरोप लगे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here