यहां लड़कियों को करनी पड़ती है अपने ही पिता से शादी, वजह जान हैरान रह जाएंगे आप

0

दुनिया भर में कुछ परंपरा ऐसी होती है कि जो हमें सुनने और देखने में अच्छी लगती है वहीं कुछ परंपरा ऐसी होती है जो हमें कुछ अजीब ही लगती है, लेकिन आज हम आपको शादी की एक ऐसी ही अजीब परंपरा के बारे बताने जा रहे है जहां एक बेटी को अपने पिता से ही शादी करनी पड़ती है।

परंपरा
photo- thehook.news

दरअसल, बांग्लादेश के दक्षिण पूर्व माधोपुर जंगलों में रहने वाली मंडी प्रजाति में इस तरह की शादियां करवाई जाती है। जानकारी के मुताबिक, इस जनजाति में यहां मां और बेटी को एक ही पुरुष से शादी करनी पड़ती है। ताकि उनका समुदाय बचा रहें है और महिलाओं की रक्षा हो सके। हालांकि बदलते वक्त के साथ इस समुदाय के लोगों ने अब इस पराम्‍परा को मानने से मना कर दिया है।

जानिए क्या है यह परंपरा- 

पिता से बेटी की शादी जैसी इस विचित्र परम्परा को अपनाने के पीछे इस समुदाय का तर्क है कि इस परंपरा को तब अपनाया जाता है जब किसी महिला का पति कम उम्र में ही चल बसता है। ऐसी स्थिति में महिला को अपनी पति के खानदान में से ही एक कम-उम्र के आदमी से शादी करनी होती है। ऐसे में कम-उम्र के नए पति की शादी उसकी होने वाली पत्नी की बेटी के साथ भी एक ही मंडप में करवा दी जाती है।

photo- thehook.news

माना जाता है कि कम-उम्र का पति नई पत्नी और उसकी बेटी का भी पति बनकर दोनों की सुरक्षा एक लंबे वक्त तक कर सकता है। हालांकि इस कम्युनिटी में बहुत छोटी उम्र में ही शादी हो जाती है। वहीं महिलाओं की सुरक्षा और सम्‍पति के लिए इस जनजाति के लोगों का कहना है कि इस रिवाज के पीछे का मकसद सम्‍पति के बंटवारे को रोकने के साथ ही महिलाओं की सुरक्षा करना है इसलिए बेटी की पिता से शादी इसी व्यवस्था का हिस्सा है।

एक घर में मां और बेटी का सौतन बनकर रहना बहुत मुश्किल काम होता है इस वजह से उनके रिश्‍ते में दरार भी आ जाती है। इसलिए कम्युनिटी में यह परम्परा धीरे-धीरे खत्म हो रही है और नई पीढि़यों की लड़कियां इस रिवाज को नहीं मानती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here