गोरखनाथ मंदिर के बाहर कर्जमाफी की मांग को लेकर किसान ने की आत्मदाह की कोशिश

0

उत्तर प्रदेश के नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गोरखपुर दौरे के बीच कर्जमाफी को लेकर एक किसान ने रविवार(26 मार्च) को आग लगाकर जान देने की कोशिश की। किसान ने गोरखपुर में स्थित गोरखनाथ मंदिर के बाहर यह नाकाम कोशिश की। हालांकि, मौके पर मौजूद लोगों ने किसान को बचा लिया।

जानकारी के मुताबिक, राज कुमार भारती नाम के किसान कर्ज को लेकर काफी परेशान था, जो उसने इलाज के लिए लिया है। किसान वह कर्ज माफी की मांग कर रहा था। वह बलिया का रहने वाला बताया जा रहा है।

जब उसे पता चला कि सीएम योगी आदित्यनाथ गोरखपुर में मौजूद हैं तो वह उनसे मिलकर अपनी समस्या रखना चाहता था, लेकिन सुरक्षा कारणों की वजह से वो वहां तक नहीं पहुंच पाया। इसके बाद उसने मिट्टी के तेल से भरे बोतल को अपने ऊपर डालने का नाकाम कोशिश किया।

बता दें कि उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने के बाद किसानों से चुनावी वादा पूरा करने के दबाव के बीच केंद्र सरकार ने साफ कर दिया है कि यह कदम राज्य को अपने संसाधनों के हिसाब से ही उठाना होगा। केंद्र सरकार इस मामले में राज्य सरकार को मदद नहीं कर सकती है।

केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने गुरुवार(23 मार्च) को केंद्र सरकार की ओर से किसानों के कर्ज माफ किए जाने की बात से इनकार करते हुए कहा कि केंद्र सरकार कर्ज माफ नहीं करेगी, लेकिन राज्य सरकारें अपने संसाधनों के जरिए इस दिशा में प्रयास कर सकती हैं।

गौरतलब है कि यूपी में बीजेपी ने अपने चुनावी घोषणा पत्र में किसानों की कर्जमाफी का वादा किया है। साथ ही केंद्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने कहा था कि यूपी में चुनाव प्रचार के दौरान किए गए वादे पर अमल करते हुए सूबे के छोटे और सीमांत किसानों के कर्ज माफ किए जाएंगे।

इसके अलावा खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी उत्तर प्रदेश चुनाव में किसानों के कर्ज माफ करने की घोषणा की थी। उन्होंने कहा था कि योगी कैबिनेट की पहली बैठक में किसानों का कर्ज माफ कर देने पर फैसला लिया जाएगा। कांग्रेस ने भी देश भर के किसानों के कर्ज माफ किए जाने की मांग की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here