दिल्ली बजट 2017: केजरीवाल सरकार का तीसरा टैक्स फ्री बजट, कुल बजट में से शिक्षा के लिए 24 फीसदी आवंटन

0

बुधवार को वित्त मंत्री और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया ने विधानसभा में दिल्ली का बजट पेश किया। 2017-18 बजट पेश करते हुए वित्त मंत्री मनीष सिसौदिया ने कहा कि इस साल किसी नए कर का प्रस्ताव नहीं और ना ही कोई कर नहीं बढ़ाया जाएगा।यह अरविंद केजरीवाल सरकार का लगातार तीसरा टैक्स फ्री बजट है। दिल्ली सरकार ने शिक्षा पर विशेष ध्यान देते हुए 24 प्रतिशत का आवंटन केवल इसी क्षेत्र के लिए रखा है।

Photo: India Today

अपने बजट भाषण की शुरुआत करते हुए सिसोदिया ने कहा ‘एक रात को आसमां का, निज़ाम मेरे नाम कर दे। मैं सारे तारे उठाकर गरीबों में बांट दूं। इस बजट में केजरीवाल सरकार ने दिल्ली से छोटे नगरों की कनेक्टिविटी के लिए ATF पर टैक्स रेट घटाकर 25 पर्सेंट से 1 पर्सेंट कर दिया है ताकि पूर्वोत्तर सहित छोटे शहरों के लिए सस्ता हवाई सफर किया जा सके।

बजट पेश करते हुए उपमुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया ने बताया कि आउटकम बजट में सरकार और विभागों के बीच एग्रीमेंट होगा।विभाग लक्ष्य तय करेंगे और सरकार उनको पूरा करेगी। पूंजी और खर्च के जरिये विभागों का बजट तय होगा। हर तिमाही में विभागों द्वारा किए गए काम की समीक्षा की जाएगी कि जनता को कितना लाभ हुआ।

उन्होंने बताया कि MCD को 7571 करोड़ रुपए दिए गए जो कि कुल बजट का 15 प्रतिशत था। प्रगति मैदान के पास स्काईवॉक का निर्माण किया जा रहा है। 283 करोड़ रुपये खर्च करके स्किल डिवेलपमेंट सेंटर का निर्माण किया जा रहा है। एक नए मोबाइल ऐप के जरिए योजनाओं की समीक्षा की जाएगी।

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया ने बताया कि दिल्ली में प्रति व्यक्ति आय में बढ़ोतरी हुई है। दिल्ली में मोहल्ला क्लिनिक का प्रयोग बेहद सफल रहा है। सरकारी अस्पतालों में सभी प्रकार के टेस्ट फ्री किए गए। वरिष्ठ नागरिक की पेंशन में एक हजार की बढ़ोतरी करवाई गई। इसके अतिरिक्त दिल्ली सरकार के बजट में निम्नलिखित बिन्दुओं को भी उपमुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया ने विस्तार से बताया उन्होंने कहा कि

    • दिल्ली की प्रति व्यक्ति आय 2015-16 में 2,73,618 रुपए से बढ़कर 2016-17 में 3,03,073 हुई।
    • 723 करोड़ व्यापारियों को रिफंड किए गए।
    • भारत की जीडीपी में दिल्ली का योगदान 2011-12 में 3.94 से बढ़कर 2016 में 4.08% हुआ।
    • बारापुला फेज-3 और मेट्रो फेज-3 का काम और तेजी से चल रहा है।
    • मार्बल के अलावा कोटा स्टोन व अन्य पत्थरों पर टैक्स दर 12.5 पर्सेंट से घटाकर 5 पर्सेंट की गई।
    • हमने आधी कीमत पर बिजली, 20000 लीटर मुफ्त पानी देकर जनता को आर्थिक रूप से मजबूत बनाया।
    • दिल्ली की पर्यटन नीति बनाने के लिए सिंगल विंडो पॉलिसी बनाई जा रही है ताकि फिल्मों की शूटिंग आसानी से हो सके।
    • दिल्ली में 9 नए वोकेशनल कॉलेज खोले जाने हैं जिनसे उच्च शिक्षा में 2700 सीटें बढ़ेंगी।
    • आप सरकार ने गेस्ट लेक्चररों की सैलरी बढ़ाकर 32000 से 34000 रुपए की।
    • 20 रुपये से अधिक वाले सेनेटरी नैपकिन पर कर 12 पर्सेंट से घटाकर 5 पर्सेंट कर दिया गया।
    • समूची दिल्ली में छठ घाट बनाए जाएंगे इसके लिए 20 करोड़ रुपये का प्रावधान।
    • सागरपुर में एक अतिरिक्त मंडी खोली जाएगी
    • बजट में शिक्षा के लिए 24 प्रतिशत
    • सिसोदिया ने कहा, ईडब्ल्यूएस की 25% आरक्षित कैटिगरी में दाखिले में पारदर्शिता हमारी बड़ी उपलब्धि है।
    • दिल्ली सरकार ने मोहल्ला क्लिनिक और रैनबसेरों को जोड़ कर बेघरों को मेडिकल सुविधाएं दिलाने की पहल की है।
    • दिल्ली सरकार ने वृद्ध लोगों के लिए पेंशन 1,000 प्रति माह की. दिव्यांगों व विधवाओं के लिए पेंशन 2,500 रुपए किया।
    • 10,000 नए ऑटो परमिट जारी किए जाएंगे।
    • यमुना नदी के किनारों को विकसित किया जाएगा। इसके लिए बजीराबाद में 5 किलोमीटर का रिवर फ्रंट बनेगा।
    • दिल्ली मेट्रो के 582 नए कोच जोड़े जाएंगे।
    • कुल 5736 करोड़ रुपये का प्रावधान केवल स्वास्थ्य के लिए किया गया है।
    • GST के कारण कर में तेजी आएगी इसलिए कोई नया कर नहीं लगाया गया है
    • पर्यटन के लिए कुल 119 करोड़ रुपये आवंटित किए गए।
    • निजी अस्पतालों से टाईअप करके सरकारी अस्पतालों के रोगियों को निजी अस्पताल में रेफर किया जा सकेगा।
    • सड़क दुर्घटना में घायल लोगों को बचाने वालों को 2,000 रुपये का नकद इनाम देगी दिल्ली सरकार।
    • दिल्ली के सरकारी अस्पतालों में अगले साल तक 10,000 बेड बढ़ाए जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here