PNB महाघोटाला: रक्षा मंत्री द्वारा लगाए गए आरोपों पर भड़के अभिषेक मनु सिंघवी, मानहानि का केस करने की दी चेतावनी

1

पंजाब नेशनल बैंक (PNB) में 11 हजार करोड़ रुपये से अधिक के घपले का खुलासा होने के बाद राजनीति शुरू हो गई है। केंद्र में सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) जहां कांग्रेस पर इस फ्रॉड के लिए दोषी बता रही है, वहीं कांग्रेस सहित अन्य राजनीतिक पार्टियां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साध रही है। दोनों पार्टियों के बीच शनिवार (17 फरवरी) को एक बार फिर आरोप-प्रत्यारोप का दौर चला।

अभिषेक मनु सिंघवी
file photo- अभिषेक मनु सिंघवी

शनिवार को इस क्रम बीजेपी नेता और रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी पर नीरव से फायदा लेने का गंभीर आरोप लगाया। रक्षा मंत्री द्वारा लगाए गए आरोपों पर भड़के सिंघवी ने इस मामले में मानहानि का दावा करने की बात कही है।

नवभारत टाइम्म के मुताबिक सिंघवी ने कहा कि, ‘बीजेपी के नेता जिस तरह से मुझे नीरव मोदी मामले में खींच रहे हैं मैं उनके खिलाफ आपराधिक मुकदमा और मानहानि केस कर सकता हूं।’ सिंघवी ने कहा कि मेरा, मेरी पत्नी या मेरे बेटे का गीतांजलि या नीरव मोदी की कंपनी से कोई लेना-देना नहीं है। उन्होंने कहा कि कमला मिल्स की एक संपत्ति में नीरव मोदी ने किराए पर एक ऑफिस लिया था।

इस जगह का मालिकाना हक अद्वैत होल्डिंग्स के पास है, जिसमें मेरी पत्नी और बेटा डायरेक्टर हैं। सिंघवी ने बताया कि अद्वैत होल्डिंग्स की परेल में कमर्शल प्रॉपर्टी है, जैसे कुछ और जगह है। इसे कई साल पहले फायरस्टोन ने किराए पर लिया था। सिंघवी ने कहा कि, ‘न तो मेरे परिवार का और न ही अद्वैत होल्डिंग्स का मोदी और फायरस्टोन से कोई लेना-देना है। फायर स्टोन ने 2017 में कमला मिल्स वाली जगह को खाली कर दिया था।’

रक्षा मंत्री ने लगाया आरोप

इससे पहले बीजेपी ने पंजाब नेशनल बैंक घोटाले में कांग्रेस के नेताओं के शामिल होने का आरोप दोहराते हुए फिर कहा कि मोदी सरकार को जैसे ही इस मामले की जानकारी हुयी, उसने ठोस कार्रवाई की है। बीजेपी की वरिष्ठ नेता और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) सरकार के दौरान 2011 में बैंक के एक वरिष्ठ अधिकारी के सहयोग से घोटाले की शुरुआत हुयी थी।

उन्होंने कहा कि उस अधिकारी ने नीरव मोदी की कम्पनी गीतांजलि जेम्स को कर्ज के लिए जो लेटर आफ अंडरस्टेंडिंग (एलओयू) जारी किया उसे कोर बैंकिंग सिस्टम में नहीं डाला जाता था। उस अधिकारी के सेवानिवृत्त होने के बाद घोटाले की जानकारी हुई। सीतारमण ने कहा कि कांग्रेस के नेताओं ने सरकारी पद और प्रशासनिक प्रणाली का दुरुपयोग कर घोटाला किया और अब लोगों को गुमराह करने के लिए झूठ का सहारा लेकर सरकार पर आरोप लगा रहे हैं।

रक्षा मंत्री ने आरोप लगाया कि साल 2002 में नीरव मोदी की एक कम्पनी में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अभिषेक मनु सिंघवी की पत्नी अनिता सिंघवी और पुत्र आविष्कार मानव सिंघवी शेयरधारक थे। बीजेपी नेता ने कहा कि घोटाले की जानकारी होते ही केन्द्रीय जांच ब्यूरो, प्रवर्तन निदेशालय, आयकर विभाग और विदेश मंत्रालय ने कार्रवाई की है। सीतारमण ने कहा कि साल 2013 में भारतीय जीवन बीमा निगम ने गीतांजलि जेम्स में चार प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदी थी लेकिन बाद में कम्पनी के कारोबार पर छह माह के लिए रोक लगा दी गयी थी।

 

 

 

1 COMMENT

  1. Many singhvi ‘s video of him compromising his sexual sanctity with a lady lawyer is being hidden by you guys & you promote a fake video of senior BJP leader?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here