बक्सर के डीएम मुकेश पांडेय ने गाजियाबाद में ट्रेन से कटकर की खुदकुशी

0

बिहार के बक्सर जिले के नवपदस्थापित डीएम मुकेश कुमार पांडेय ने गुरुवार(10 अगस्त) रात कथित तौर पर गाजियाबाद के रेलवे स्टेशन पर खुदकुशी कर ली। जिलाधिकारी का शव गाजियाबाद स्टेशन से करीब एक किलोमीटर दूर कोटगांव के पास रेलवे ट्रैक पर कटा हुआ मिला।इस मामले में जीआरपी का कहना है कि शुरुआती जांच में यह खुदकुशी का मामला लग रहा है। लेकिन वजह का पता नहीं लग सका है। शुक्रवार को उनके शव का पोस्टमॉर्टम होगा। हालांकि, मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, डीएम ने अपने फोन से एक मैसेज किसी को भेजा है, जिसमें लिखा है कि ‘पश्चिमी दिल्ली स्थित जनकपुरी में होटल पिकाडिल्ली के दसवें तल्ले से छलांग लगाकर आत्महत्या कर रहे हैं।

Also Read:  गुजरात कांग्रेसी विधायकों के रिसॉर्ट पर IT के छापेमारी को लेकर जेटली ने संसद में बोला झूठ? CCTV से खुलासा

मैसेज में लिखा है कि मैं जीवन से निराश हूं और मानवता से विश्वास उठ गया है। मेरा सुसाइड नोट दिल्ली के होटल लीला पैलेस में नाईक के बैग में रूम नंबर 742 में रखा है। मैं आप सबसे प्यार करता हूं, कृपया मुझे माफ कर दें।’ हालांकि, वहां पुलिस के पहुंचने के बाद पांडे नहीं मिले। लेकिन शुक्रवार सुबह उनका शव गाजियाबाद में रेलवे ट्रैक से बरामद किया गया है।

Also Read:  PM मोदी ने मायावती पर बोला हमला, कहा- BSP मतलब "बहनजी संपत्त‍ि पार्टी"

बता दें कि 2012 बैच के आईएएस अधिकारी मुकेश पांडेय को 31 जुलाई को बक्सर का जिलाधिकारी बनाया गया था। बतौर डीएम यह उनकी पहली पदस्थापना थी। इसके पहले वे बेगूसराय के बलिया अनुमंडल में एसडीएम और कटिहार में डीडीसी के पद पर सेवा दे चुके थे। मुकेश मूलतः छपरा जिले के रहने वाले थे।मुकेश के पास से एक सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें उन्होंने अपनी मर्जी से खुदकुशी करने की बात लिखी है। नोट में उन्होंने लिखा है, ‘मैं अपनी मर्जी से मर रहा हूं। शव मिलने के बाद ससुर को फोन कर देना।’ इस नोट में उन्होंने कुछ नंबर भी लिखे हैं।

Also Read:  VIDEO: 30 रुपए का टोल मांगने पर नशे में धुत नेता के बेटे ने मैनेजर पर किया चाकू से हमला

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here