गुजरात के बाद अब यूपी में आया सियासी भूचाल, सपा के बाद बीएसपी MLC जयवीर सिंह ने दिया इस्तीफा

0

गुजरात के बाद अब उत्तर प्रदेश में सियासी घमासान शुरू हो गया है। शनिवार(29 जुलाई) को भारतीय जनता पार्टी(बीेजेपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के लखनऊ पहुंचते ही समाजवादी पार्टी(सपा) और बहुजन समाज पार्टी(बीएसपी) को बड़ा झटका लगा है। इधर पार्टी अध्यक्ष अमित शाह लखनऊ दौरे पर पहुंचे, उधर समाजवादी पार्टी के दो और बीएसपी के एक एमएलसी ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया।

(Photo by Ajay Aggarwal/ Hindustan Times via Getty Images)

सपा के दो एमएलसी द्वारा पार्टी छोड़ने के कुछ देर बाद ही बीएसपी के भी एक एमएलसी ने इस्तीफा दे दिया है। बीएसपी MLC ठाकुर जयवीर सिंह ने शनिवार को पार्टी छोड़ने का एलान किया। बीएसपी MLC जयवीर सिंह द्वारा इस्तीफा देने के पहले सपा के दो एमएलसी यशवंत सिंह और बुक्कल नवाब ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। खास बात यह है कि इनमें बुक्कल नवाब मुस्लिम शिया समुदाय के जाने माने नेता माने जाते हैं।

सूत्रों के मुताबिक माना जा रहा है कि ये दोनों नेता सपा छोड़ बीजेपी का दामन थाम सकते हैं। गौरतलब है कि इस वक्त उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित पांच मंत्री ऐसे हैं जो न तो विधानसभा के सदस्य हैं और न ही विधान परिषद के। इनमें उपमुख्यमंत्री सीएम दिनेश शर्मा और केशव प्रसाद मौर्य के अलावा मोहसिन रजा और स्वतंत्र देव सिंह भी शामिल हैं। नियम के मुताबिक, मंत्री बनने के 6 महीने अंदर (15 सितंबर तक) उनके लिए किसी एक सदन का सदस्य होना चाहिए। ऐसे में सपा और बसपा के इन एमएलसी के इस्तीफे साथ चार सीटों का जुगाड़ बीजेपी ने कर लिया है।

सपा MLC ने BJP में जाने के दिए संकेत

विधानसभा परिषद के सभापति को इस्तीफा सौंपने के बाद सपा एमएलसी बुक्कल नवाब ने पत्रकारों के बात करते हुए बीजेपी का दामन थामने के संकेत देते नजर आए। नवाब ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘सबका साथ सबका विकास’ नारे का जिक्र करते हुए कहा कि अगर कोई अच्छा काम कर रहा है तो उसके साथ जाने में कोई बुराई नहीं है। वहीं, बुक्कल नवाब ने समाजवादी पार्टी पर हमला करते हुए कहा कि पिछले एक साल से काफी घुटन महसूस कर रहा था।

गुजरात में 6 विधायक छोड़ चुके हैं कांग्रेस

बता दें कि गुजरात में राज्यसभा चुनाव से पहले 6 विधायकों के कांग्रेस छोडने के बाद अब भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) द्वारा अपने विधायकों के शिकार से बचाने के लिए पार्टी ने गुजरात में अपने 44 विधायकों को शुक्रवार(28 जुलाई) रात एकाएक बेंगलुरु लेकर चली गई।

सभी विधायक देर रात विमान से कांग्रेस शासित प्रदेश कर्नाटक रवाना हुए। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, सभी विधायकों को वहां एक रिसोर्ट में रखा गया है। बता दें कि 24 घंटे के अंदर गुजरात कांग्रेस के 6 विधायकों ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। जिसके बाद राज्य की 182 सदस्य विधानसभा में कांग्रेस की संख्या 57 से घटकर 51 रह गई है। इसका असर आगामी राज्यसभा चुनाव में पटेल की किस्मत पर पड़ सकता है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here