राजस्थान विधानसभा में अशोक गहलोत सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाएगी BJP

0

सचिन पायलट खेमे की वापसी के बाद भी राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार पर सियासी संकट खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। राजस्थान विधानसभा में भाजपा ने अशोक गहलोत सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने का ऐलान किया है। भाजपा का कहना है कि गहलोत सरकार के पास संख्या नहीं है

राजस्थान

बता दें कि, शुक्रवार (14 अगस्त) से शुरू होने जा रहे विधानसभा सत्र में भाजपा की ओर से अविश्वास प्रस्ताव लाने का ऐलान किया है। नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया ने यह घोषणा की। कटारिया ने कहा कि, “हम अपने सहयोगियों के साथ कल विधानसभा में अविश्वास प्रस्ताव ला रहे हैं।” विपक्ष की इस चुनौती के बाद अब गहलोत सरकार को सरकार बचाने के लिए फ्लोर टेस्ट में बहुमत साबित करना होगा

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने बताया कि कांग्रेस सरकार अपने विरोधाभास से गिरेगी। सतीश पुनिया ने कहा कि सरकार में बहुत सारे मतभेद हैं। संभावना है कि वे विधानसभा में विश्वास मत ला सकते हैं लेकिन हम अविश्वास प्रस्ताव लाने के लिए भी तैयार हैं।

गौरतलब है कि, विधानसभा सत्र के पहले शाम 5 बजे अशोक गहलोत के सरकारी आवास पर कांग्रेस विधायक दल की बैठक आयोजित होगी, इसमें सचिन पायलट और उनके ख़ेमे के विधायकों को भी विधायक दल की बैठक में बुलाया गया है। बैठक में सचिन पॉयलट और अशोक गहलोत की मुलाकात भी होगी। केसी वेणुगोपाल की मौजूदगी में विधायक दल की बैठक आयोजित होगी।

बता दें कि, गुरुवार को ही भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने जयपुर में विधायकों के साथ बड़ी बैठक की। इसमें पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे भी शामिल हुईं, जबकि केंद्रीय नेतृत्व की ओर से प्रतिनिधि ने भी बैठक में हिस्सा लिया।

राजस्थान में विधानसभा कुल 200 सीटें हैं, बहुमत के लिए 101 सीटों की जरूरत है। विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने 100 सीटों पर जीत दर्ज की थी। भाजपा ने 73 सीटों पर सफलता पाई थी। बीएसपी के छह उम्मीदवार विधायक बने। अन्य के खाते में 20 सीटें गई थी। बाद में बीएसपी के छह विधायक कांग्रेस में शामिल हो गए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here