बिहार: महागठबंधन टूटने के बाद RJD मना रही है ‘विश्वासघात दिवस’, पटना में धरना-प्रदर्शन शुरू

0

बिहार में महागठबंधन खत्म हो गया है, बुधवार(26 जुलाई) की शाम को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। महागठबंधन की सरकार से इस्तीफे के तुरंत बाद नीतीश कुमार को बीजेपी का साथ मिल गया और अब वह दोबारा गुरुवार (27 जुलाई) मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने जा रहे हैं।

धरना-प्रदर्शन

वहीं दूसरी और महागठबंधन टूटने के बाद अब राष्ट्रीय जनता दल(RJD) सड़क पर उतर गई है। रात में जहां तेजस्वी और उनके समर्थकों ने राजभवन तक विरोध मार्च किया वहीं अब राज्यभर में धरना-प्रदर्शन भी शुरू हो गया है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, बिहार की राजधानी पटना में ऐतिहासिक महात्मा गांधी सेतु पर आरजेडी समर्थकों ने धरना दिया।

पूरे बिहार में राष्ट्रीय जनता दल(RJD) ने नीतीश के खिलाफ विश्वासघात दिवस मनाने का ऐलान किया है। वहीं तेजस्वी यादव ने भी 100 विधायकों के साथ रात में राजभवन तक मार्च किया। बता दें कि, इससे पहले तेजस्वी यादव आरजेडी विधायकों के साथ देर रात राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी से भी मिले थे।

वहीं दूसरी और जेडीयू के राज्यसभा सांसद अली अनवर ने कहा है कि नीतीश कुमार अपनी अंतरात्मा की आवाज सुनकर बीजेपी के साथ सरकार बना रहे हैं, लेकिन मेरी अंतरात्मा इस बात को नहीं मानती है। अगर मुझे अपनी बात कहने का मौका मिलेगा, तो मैं पार्टी के मंच पर अपनी बात जरूर रखूंगा।

साथ ही उन्होंने कहा कि, मेरा जमीन इसकी इजाजत नहीं देता कि मैं इस कदम का समर्थन करूं। अली अनवर का कहना है कि, हम लोग भाजपा से जिन कारणों को लेकर अलग हटे वो सभी कारण आज भी मौजूद है। भाजपा आज भी उन्हीं रास्तों पर चल रही है जिन रास्तों से हमें परहेज था।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here