बिहार: दरभंगा में पांच साल की बच्ची से दुष्कर्म, मीडिया के सवालों का बिना जवाब दिए भाग निकले डिप्टी सीएम सुशील मोदी

0

महिलाओं और बच्चियों के सुरक्षा के तमाम दावों के बाद भी देश में दुष्कर्म की घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही है। ताजा मामला बिहार के दरभंगा की है जहां एक ऑटो ड्राइवर ने पांच साल की बच्ची से दुष्कर्म की जघन्य वारदात का अंजाम दिया।

बिहार में एक के बाद एक ऐसे मामले सामने आने का सिलसिला लगातार जारी है। राज्य की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाए जा रहे हैं और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इसके लिए पॉर्न साइट्स को जिम्मेदार बताया है लेकिन राज्य के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी के पास इन सवालों का कोई जवाब नहीं हैं। उनसे शनिवार सुबह जब इस बारे में सवाल किए गए तो वह मीडिया के सवालों का बिना जवाब दिए ही निकल गए।

बता दें कि, हैदराबाद की तरह ही बिहार में पहले बक्सर और फिर समस्तीपुर से रेप के बाद पीड़ता को जलाने की खबरें सामने आई थीं। वहीं, शुक्रवार को दरभंगा में एक टेंपो ड्राइवर को पांच साल की बच्ची के साथ रेप के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। पुलिस उप अधीक्षक अनोज कुमार ने घटना की पुष्टि करते हुए कहा कि ऑटो ड्राइवर बच्ची को एक बगीचे में ले गया और दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। पुलिस ने बताया कि मामला सामने आने के बाद देर रात आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

वहीं, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रेप और फिर हत्या की घटनाओं के लिए पॉर्न साइट्स को जिम्मेदार ठहराया था। इस बारे में जब सुशील कुमार मोदी से सवाल किया गया तो वह बिना जवाब दिए ही चले गए। मोदी से पत्रकार ने सवाल किया था, ‘रेप की इतनी घटनाएं लगातार हो रही हैं। दरभंगा में भी एक मामला सामने आया है, क्या आपको लगता है कि इसके पॉर्न साइट्स का रोल है?’ इससे पहले कि सवाल पूरा होता मोदी पलटकर चले गए। इस पर उन्हें आलोचना का सामना करना पड़ रहा है।

उधर, सुशील मोदी के पत्रकारों के सवालों से बचकर भागने पर विपक्ष हमलावर हो गया है। बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री और राजद नेता राबड़ी देवी ने ट्वीट कर कहा, ‘ये रेपिस्ट बचाओ, रेप बढ़ाओ’ वाली नीतीश सरकार है। बेशर्म, नाकारा और धिक्कार।’ सुशील मोदी को डरपोक बताते हुए राबड़ी देवी ने कहा, ‘हर मोर्चे पर मैदान छोड़ कर भागने वाला कमजोर असहाय डरपोक उप(चुप)मुख्यमंत्री…हर वक्त बात-बेबात बड़बड़ाने वाले के मुंह में शर्म घुस गया।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here