‘भाभी जी घर पर है’ ने बताई संजय लीला भंसाली पर हमला करने वालों की असलियत

1

भाभी जी घर पर है टीवी कार्यक्रम आज हर घर में देखा जाने वाला लोगों का सर्वाधिक पसन्दीदा प्रोग्राम है। इसके सभी कलाकार लोगों का भरपूर मनोरंजन करते है। लेकिन इस बार भाभी जी घर पर है ने अतिवादी शक्तियों के खिलाफ सशक्त प्रर्दशन किया हैं।

भाभी जी घर पर है

पिछले दिनों हुए संजय लीला भंसाली पर करणी सेना के हमले के खिलाफ अंगूरी भाभी, अनीता मेडम, विभूती नारायण, मनमोहन तिवारी, हप्पू सिंह आदि कलाकारों ने जमकर अतिवादी संगठनों का जमकर मजाक बनाया है।

विरोध प्रर्दशन के लिए तैयार विशेष शो को मुगल-ए-आजम का नाम दिया गया था। जिसके लिए सभी कलाकार रंगमंच पर नाटक पेश करते है। लेकिन इस शो अनाकली को लेकर शहर के कुछ संगठन तोड़-फोड़ मचाना शुरू कर देते है और सबकी पिटाई करना शुरू कर देते है।

बाद में ये लोग जान बचाते हुए जब तोड-फोड़ करने वाले संगठन के मुखिया से बात करते है तो वह बताता है कि ये सब वह जुर्माना हासिल करने के लिए कर रहा है। ताकि इतिहास पर नाटक करने वाले लोग उसे भारी धनराशि दे पाए। 5 लाख रूपये वह अपनी मांग रखता है लेकिन 5 हजार पर मान जाता है।

आपको बता दे कि इससे पहले पाकिस्तानी कलाकारों को फिल्मों में लेने के कारण मनसे के राज ठाकरे ने भी फिल्म निर्माता करण जौहर पर जुर्माना ठोक दिया था।

भाभी जी घर पर है कि दोनों ही भाभियां जब उस इतिहास के ठेकेदार से इतिहास की बात करती है तो उसका ज्ञान जीरो निकलता है। उसे अनारकली के बारे में कुछ मालूम ही नहीं होता।

अब से पहले भाभी जी घर पर है केवल घरेलू मनोरंजन के तौर पर ही बनाया जाने वाला शो हुआ करता था लेकिन इस बार कलाकारों ने समाज को बांटने वाले लोगों पर कड़ा प्रहार किया है। आसिफ शेख ने शहजादे सलीम की भूमिका में पूरे शो को अपने कंधे पर उठाकर इतिहास के ठेकेदारों का जमकर मजाक बनाया हैं।

1 COMMENT

  1. Nowadays any tom & harry can ridicule Muslims because they know if anyone making mockery of Muslims they will get support form the present day fascist government.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here