पहलू खान हत्याकांड: कांग्रेस की मांग- बजरंग दल और VHP पर लगे प्रतिबंध, गोरक्षा के नाम पर सांप्रदायिक उन्माद फैलाने का लगाया आरोप

0

राजस्थान विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी बजरंग दल और विश्व हिन्दू परिषद पर गोरक्षा के नाम पर साम्प्रदायिक उन्माद और आंतक फैलाने का आरोप लगाते हुए दोनों संगठनों पर प्रदेश में रोक लगाने की मांग की है। नेता प्रतिपक्ष ने बाबरी मामले में सुप्रीम कोर्ट द्वारा आरोपी माने गये राजस्थान के राज्यपाल कल्याण सिंह से अपने पद से त्यागपत्र देने की मांग भी की है।

गोरक्षकों

डूडी ने गुरुवार(20 अप्रैल) को संवाददाताओं से बातचीत करते हुए कहा कि अलवर जिले के बहरोड कस्बे में कथित गौरक्षकों के उपद्रव और पहलू खान की हत्या का जिक्र करते हुए कहा कि प्रदेश में अनेक क्षेत्रों में अल्पसंख्यक समाज के लोग गौ-पालन करते हैं। लेकिन बजरंग दल और विहिप जैसे कट्टरवादी संगठन मजहब के आधार पर गौ-पालन तय कराना चाहते हैं जो कि स्वीकार्य नहीं है।

Also Read:  ABVP के दबाव में रामजस के बाद खालसा कॉलेज ने भी रद्द किया स्ट्रीट कॉम्पिटिशन

उन्होंने कहा कि कथित गौरक्षक देश का माहौल खराब कर रहे हैं। राजस्थान का भाईचारा और अमन-चैन बिगाड़ा जा रहा है। उन्होंने बहरोड प्रकरण की केन्द्रीय जांच ब्यूरों से जांच करवाने की भी मांग की है। साथ ही उन्होंने राज्य के गृह मंत्री गुलाबचंद कटारिया द्वारा पहलू खान को गौतस्कर बताकर मामले को गलत दिशा देने का आरोप लगाते हुए कहा कि गृहमंत्री कटारिया से मृतक पहलू खान के घर जाकर उसके परिजनों से माफी मांगे वरना अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।

Also Read:  ज़ाकिर नाइक के एनजीओ को लाइसेंस देने के मामले में गृह मंत्रालय के चार अधिकारी सस्पेंड

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा बाबरी विध्वंस मामले में सीबीआई की याचिका पर कल्याण सिंह को आरोपी माना है, लेकिन संविधान के आर्टिकल 361 के तहत राज्यपाल के खिलाफ क्रिमिनल या सिविल ट्रायल नहीं चलाई जा सकती। कल्याण सिंह के पद से हटते ही उनके खिलाफ भी दूसरे अन्य आरोपियों की तरह मुकदमा चलाया जाएगा। इसलिए कल्याण सिंह को नैतिक आधार पर इस्तीफा देना चाहिए वरना राष्ट्रपति को इन्हें राज्यपाल कल्याण सिंह बर्खास्त करना चाहिए।

Also Read:  बिहार: मूर्ति विसर्जन को लेकर BJP में तेज हुई जंग, गिरिराज सिंह बोले- क्या दशमी मनाने पाक जाएगा हिंदू?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here