मुजफ्फरनगर दंगों के चलते संगीत सोम को ऑस्‍ट्रेलिया ने वीजा देने से किया इनकार, BJP विधायक बोले- दुनिया का कोई भी देश मुझे वीजा देने को तैयार नहीं

0

उत्तर प्रदेश की सरधना विधानसभा से भरतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के विधायक संगीत सोम को मुजफ्फरनगर दंगों की वजह से ऑस्ट्रेलिया ने वीजा देने से इनकार कर दिया है। संगीत सोम ने मंगलवार (16 जनवरी) को खुद एक सभा में कहा कि मुजफ्फरनगर दंगे के बाद दुनिया का कोई भी देश मुझे वीजा देने के लिए तैयार नहीं है।संगीत सोम

वन इंडिया के मुताबिक, मंगलवार को केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट्स वेलफेयर एसोसियेशन की बैठक में बोलते हुए संगीत सोम ने कहा कि मुजफ्फरनगर से उन्हें विशेष लगाव है। इसकी वजह से पूरी दुनिया में इतना चर्चाओं में आ गया हूं कि कोई भी देश मुझे वीजा देने को तैयार नहीं है। बीजेपी विधायक ने बताया कि दंगे के बाद से मैं कहीं विदेश यात्रा पर नहीं गया हूं।

वहीं जनसत्ता के मुताबिक इंडियन एक्सप्रेस से फोन पर बात करते हुए संगीत सोम ने कहा कि, ‘मैंने ऑस्ट्रेलिया के वीजा के लिए अप्लाई किया था, लेकिन मेरा वीजा यह कहकर खारिज कर दिया गया कि मेरे खिलाफ केस लंबित पड़े हैं, मैंने यह आवेदन 2015 में ही दिया था, लेकिन ये क्लियर नहीं हो सका, इसके बाद मैंने विदेश जाने का इरादा ही त्याग दिया।’

जनसत्ता के मुताबिक संगीत सोम ने कहा कि मुजफ्फरनगर दंगों से पहले वह ऑस्ट्रेलिया, अमेरिका और सिंगापुर जा चुके हैं और उन्हें कभी भी वीजा मिलने में दिक्कत नहीं हुई। लेकिन दंगों में नाम आने के बाद उन्हें समस्याएं झेलनी पड़ रही है। संगीत सोम ने चुनाव आयोग को दिये गये हलफनामे में कहा है कि उनके खिलाफ 5 केस चल रहे हैं लेकिन एक में भी उन्हें सजा नहीं हुई है।

बता दें कि यूपी के मुजफ्फरनगर में साल 2013 में हिंदू और मुसलमानों के बीच दंगे भड़क उठे थे। अगस्त में हुए इन दंगों में 62 लोगों की जान गई थी। इसमें 42 मुस्लिम और 20 हिंदू शामिल थे। इन दंगों में 93 लोग घायल भी हुए थे, जबकि 40 हजार से अधिक लोगों को विस्थापित होना पड़ा था।

संगीत सोम को मुजफ्फरनगर के महापंचायत में सितंबर 2013 में कथित तौर पर भड़काऊ भाषण देने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। राज्य सरकार ने इन पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून लगाया था, लेकिन अदालत ने उन्हें इस आरोप से बरी कर दिया था।

वहीं पिछले साल अप्रैल में मुजफ्फरनगर दंगों संबंधी मामलों की जांच कर रहे विशेष जांच दल (एसआईटी) ने एक सोशल मीडिया वेबसाइट पर अपलोड किए गए भड़काऊ वीडियो के मामले में संगीत सोम को क्लीन चिट दे दी थी। मामले के जांच अधिकारी निरीक्षक धर्मपाल त्यागी ने अदालत में अंतिम रिपोर्ट दायर करते हुए कहा कि संगीत सोम के खिलाफ कोई सबूत नहीं मिला।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here