BJP को टक्कर देने के लिए कांग्रेस नेता RSS की तर्ज पर बनाएंगे ‘राष्ट्रीय कांग्रेस स्वयंसेवक संघ’

0

पूर्व अंतराराष्ट्रीय हॉकी खिलाड़ी और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता असलम शेर खान ने बुधवार(29 मार्च) को घोषणा की है कि मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में 2018 में होने वाले विधानसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) को टक्कर देने के लिए वह राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की तर्ज पर राष्ट्रीय कांग्रेस स्वयंसेवक संघ (आरसीएसएस) बनाएंगे। इस संघ से उन लोगों को जोड़ा जाएगा, जो कांग्रेस की विचारधारा के पक्षधर हैं।

फोटो: साभार

पूर्व केंद्रीय मंत्री असलम ने बताया कि, मैं आज ‘राष्ट्रीय कांग्रेस स्वयंसेवक संघ’ के गठन की घोषणा करता हूं। यह मध्यप्रदेश एवं छत्तीसगढ़ में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों में ठीक उसी तरह से कांग्रेस की मदद करेगी, जैसे संघ चुपके-चुपके पिछले दरवाजे से चुनावों में भाजपा को सपोर्ट करती है।

असलम ने कहा कि आरसीएसएस का ढांचा ठीक उसी प्रकार होगा, जैसे आरएसएस का है, लेकिन आरसीएसएस का कोई परिधान नहीं होगा, जैसा कि संघ के स्वयंसेवकों का है। उन्होंने बताया कि मैंने राष्ट्रीय कांग्रेस स्वयंसेवक संघ बनाने का निर्णय किया है, क्योंकि जमीनी स्तर पर कांग्रेस के पास कार्यकर्ताओं की भारी कमी है, जबकि एक राजनीतिक दल के लिए चुनाव जीतने के लिए जमीनी स्तर पर कार्यकर्ताओं का होना जरूरी है।

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने बताया कि हाल ही में हुए उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के परिणामों से स्पष्ट हो गया है कि यदि कांग्रेस केवल अल्पसंख्यक वोटों के बल पर ही सत्ता में आना चाहती है, तो यह संभव नहीं है। जब उनसे सवाल किया गया कि वह राष्ट्रीय कांग्रेस स्वयंसेवक संघ क्यों बना रहे हैं, जबकि आरएसएस के पहले ही ‘कांग्रेस सेवा दल’ बनाया था, इस पर उन्होंने कहा कि ‘कांग्रेस सेवा दल लगभग खत्म हो चुका है।’

कांग्रेस नेता ने बताया कि कांग्रेस सेवा दल की स्थापना एनएस हार्डिकर ने अंग्रेजों से देश की आजादी हासिल करने के लिए किया था। उन्होंने कहा कि यह उद्देश्य हमने कई साल पहले 1947 में हासिल कर लिया है, इसलिए अब यह (कांग्रेस सेवा दल) लगभग खत्म हो गया है।’

असलम ने बताया कि आरएसएस की स्थापना केबी हेडगेवार ने भारत को हिंदू राष्ट्र बनाने के लिए किया और उनका यह सपना अब तक पूरा नहीं हुआ है। इसलिए आरएसएस बहुत ज्यादा सक्रिय है और अब भी काम कर रहा है। हालांकि, उन्होंने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा देश की कमान संभालने के बाद बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के साथ मिल कर मोदी संघ के इस सपने (भारत को हिंदू राष्ट्र बनाने का) को साकार करने के लिए युद्धस्तर पर काम कर रहे हैं।

बता दे कि इससे पहले बिहार के स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव ने भी आरएसएस की तर्ज पर बिहार में धर्मनिरपेक्ष सेवक संघ (डीएसएस) बनाया है। राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के अध्यक्ष लालू प्रसाद के बेटे तेजप्रताप ने मंगलवार(28 मार्च) को नए संगठन की घोषणा की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here